बच्चों से बातचीत करना उनकी भाषा के विकास में मददगार

,

वैज्ञानिकों ने पाया है कि एक वयस्क और एक बच्चे के बीच होने वाली बातचीत बच्चे के मस्तिष्क में बदलाव कर सकती है और यह बातचीत उसके भाषाई विकास के लिए ज्यादा महत्त्वपूर्ण साबित हो सकती है.

अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि उच्च-आय परिवारों के बच्चे कम आय वाले परिवार के बच्चों की तुलना में अपने जीवन के शुरुआती तीन सालों में करीब तीन करोड़ ज्यादा शब्द सुनते हैं.

‘तीन करोड़ शब्दों का यह अंतर’ शब्दावली, भाषाई विकास और पठन बोध की जांच में महत्त्वपूर्ण अंतरों से परस्पर संबंधित होता है.

‘साइकोलॉजिकल साइंस’ पत्रिका में प्रकाशित हुए इन परिणामों में पाया गया है कि बच्चों को किसी बातचीत में शामिल कर परिजन उनकी भाषा और मस्तिष्क विकास पर विशेष रूप से प्रभाव डाल सकते हैं.