चारा घोटाला : जज का खुलासा, लालू जी के लिए आ रहे हैं सिफारिशी फोन

,

चारा घोटाले से जुड़े एक मामले में राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव पर फैसला बृहस्पतिवार को एक दिन के लिए टल गया. इस बीच, रांची की विशेष सीबीआई अदालत के जज शिवपाल सिंह ने बड़ा खुलासा किया है.

उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद के दो लोगों ने उन्हें फोन किया था. हालांकि ये दोनों समर्थक थे या कोई नेता, जज ने यह जानकारी नहीं दी.

सुनवाई के वक्त जज ने लालू प्रसाद यादव से कहा कि आपके लिए मेरे पास कई लोगों ने सिफारिशें की हैं, लेकिन चिंता करने की जरूरत नहीं  है. मैं केवल कानून का पालन करूंगा.

गौरतलब है कि इस मामले में गुरुवार को फैसला आना था लेकिन आखिरी समय में ए से लेकर के तक के आरोपियों की सजा पर ही बहस हो पाई. अब एल से नाम होने के कारण लालू की सजा पर फैसला शक्रवार को होगा. बिहार के बहुचर्चित चारा घोटाले से जुड़ा यह दूसरा मामला है, जिसमें लालू को सजा का ऐलान होना अभी बाकी है. इससे पहले बुधवार को वकील बिंदेरी प्रसाद के निधन की वजह से उनकी सजा पर सुनवाई एक दिन के लिए टल गई थी. वकीलों ने शोकसभा की वजह से फैसला टालने की अपील की थी.

लालू बोले-जज साहब मैं भी वकील हूं
राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने बृहस्पतिवार को सुनवाई के दौरान स्वयं को निर्दोष बताते हुए कहा कि उन्होंने कुछ नहीं किया है. उन्होंने कहा, जज साहब मैं भी वकील हूं. इस पर न्यायाधीश ने कहा कि यदि आप वकील हैं तो आपको इसका फायदा भी हो सकता है और नुकसान भी. अदालत में सजा के ¨बदुओं की सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कराये जाने की चर्चा हुई तो यादव ने कहा कि उन्हें न्यायालय में ही बुलाया जाये, वह अदालत में शुक्रवार को भी हाजिर हो जायेंगे.

सवाल-जवाब से फूटा हंसी का फव्वारा
चारा घोटाले के एक मामले में 23 दिसंबर को दोषी ठहराए जाने के बाद बृहस्पतिवार को लालू प्रसाद व 15 अन्य अभियुक्तों की पेशी के दौरान लालू की एक शिकायत पर जज के जवाब से रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत में हंसी के फव्वारे फूट पड़े.

दरअसल, लालू प्रसाद की ओर इशारा करते हुए न्यायाधीश ने पूछा, जेल में कोई दिक्कत तो नहीं? जवाब में लालू ने कहा, साहब जेल में मेरे परिचितों को मुझसे मिलने नहीं दिया जा रहा है. इस पर न्यायाधीश मुस्कराते हुए तपाक से बोले, इसलिए तो आपको अदालत में बुलाते हैं ताकि आप सबसे मिल सकें. न्यायाधीश की इस टिप्पणी पर उपस्थित वहां सभी लोग हंस पड़े. लालू के ऐसे ही कुछ सवालों और उस पर जज के जवाबों ने माहौल में हल्की मिठास घोल दी.

ठंड लगे तो तबला बजाइए
लालू का सवाल : साहब फैसला देने के पहले ठंडे दिमाग से विचार करिएगा.
जज का जवाब : आपके शुभचिन्तक दूर-दूर से फोन कर रहे हैं.  
लालू का सवाल : हमने कुछ नहीं किया जज साहब, जेल में बहुत ठंड लगती है. 
जज का जवाब : तबला बजाइए  
लालू का सवाल : जेल में एक किन्नर भी बन्द है, गलती से आ गया है 
जज का जवाब : आप हैं तो सब ठीक हो जाएगा