चीफ सेक्रेटरी को न्याय मिलेगा: राजनाथ

,

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी अंशु प्रकाश से संबंधित घटनाक्रम पर चिंता और दुख व्यक्त करते हुए कहा है कि इस मामले में न्याय किया जायेगा. 

प्रकाश के साथ-साथ भारतीय प्रशासनिक सेवाओं के दानिक्स अधिकारियों और अधीनस्थ सेवाओं के अधिकारियों के एक शिष्टमंडल ने आज गृह मंत्री से उनके निवास पर मुलाकात की और इस मामले में अपना पक्ष रखा. 

मुलाकात के बाद सिंह ने ट्वीट किया, दिल्ली सरकार के चीफ सेक्रेटरी के साथ हुई घटना से गहरा दुख हुआ है. नौकरशाहों को सम्मान और बिना भय के काम करने की अनुमति दी जानी चाहिए. आईएएस दानिक्स और दिल्ली अधीस्थ सेवाओं के अधिकारियों का शिष्टमंडल इस मुद्दे पर मुझसे मिला है. गृह मंत्रालय ने उपराज्यपाल से रिपोर्ट मांगी है. इस मामले में न्याय किया जायेगा.  

दिल्ली प्रशासनिक अधीनस्थ सेवा संघ के अध्यक्ष डी एन सिंह ने गृह मंत्री से मिलने के बाद कहा कि जब तक इस मामले में कार्रवाई नहीं होती, हम काम नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि इसके विरोध में राजघाट तक कैंडल मार्च निकाला जायेगा. उन्होंने कहा कि गृह मंत्री ने कहा है कि उन्होंने इस मामले की रिपोर्ट मांगी है. 

भारतीय प्रशासनिक सेवा संघ की सचिव मनीषा सक्सेना ने कहा, केवल माफी से काम नहीं चलेगा, हम इस मामले में कार्रवाई चाहते हैं.

इन अधिकारियों ने आरोप लगाया है कि प्रकाश के साथ कल रात मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पर उनकी मौजूदगी में आप विधायकों ने बदसलूकी की. 

उधर आम आदमी पार्टी ने इन आरोपों से इंकार किया है.