मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पहुंचे पीएमओ रखा अपना पक्ष

,

दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश बुधवार को पीएमओ पहुंचे और अपना पक्ष रखा.

उन्होंने बताया कि किस प्रकार मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री के समक्ष विधायकों ने उन पर हमला बोला. मुख्य सचिव पर विधायक द्वारा हमले की पहली इस प्रकार की वारदात है. इस कारण मुख्य सचिव ने प्रधान मंत्री कार्यालय पहुंचकर अपना पक्ष रखा.

मुख्यमंत्री आवास पर मुख्यमंत्री के समक्ष पूरी घटना घटी, इसलिए पूरे प्रकरण पर विवाद गहरा गया है व प्रधानमंत्री कार्यालय मामले की गंभीरता समझ रहा है.

असल में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से जुड़े लोग उस बैठक को खाद्य आपूर्ति से संबंधित मामला बता रहे हैं, लेकिन मुख्य सचिव ने साफ कर दिया है सोमवार की बैठक टीवी को विज्ञापन जारी करने के लिए बुलाया गया था.

यह विज्ञापन दिल्ली सरकार के तीन साल पूरे होने पर जारी किया जाना था, लेकिन 10 विभागों ने इसे जारी करने की अनुमति नहीं भेजी जिससे विज्ञापन नहीं जारी हो पाया.

अब विधायकों ने विज्ञापन जारी करने का दबाव बनाने मुख्य सचिव के साथ हाथापाई की.