राजधानी में सीलिंग अभियान तेज 133 संपत्तियां सील

,

राजधानी में सीलिंग अभियान एक बार फिर तेज हो गया है. अरसे बाद दक्षिणी दिल्ली नगर निगम क्षेत्र में भी मंगलवार को सीलिंग की कार्रवाई चली और 40 संपत्तियां सील की गई.

राजधानीभर में कुल 133 संपत्तियां सील की गई हैं. इसमें उत्तरी दिल्ली नगर निगम क्षेत्र में सील की गयीं 76 पार्किग भी  शामिल हैं. 
मॉनिटरिंग कमेटी के निर्देश पर नगर निगम के दस्ते ने दक्षिणी दिल्ली नगर निगम पश्चिम एवं मध्य जोन में सीलिंग की कार्रवाई की. मध्य जोन के साउथ एक्सटेंशन पार्ट-वन स्थित बी ब्लॉक मार्केट में 30 दुकानें सील की गयीं. इसके साथ ही बेसमेंट एवं ऊपरी फ्लोर पर चल रहीं दुकानों के बिरुद्ध कार्रवाई करते हुए सीलिंग की कार्रवाई की गयी. पश्चिमी जोन के जनकपुरी स्थित डी-2, डी-1 एवं डी-1 ए ब्लॉक में 10 स्टिल्ट पार्किग में अनधिकृत रुप से बने 17 कमरों को सील कर दिया.

उत्तरी दिल्ली नगर निगम क्षेत्र में कुल 77 संपत्तियां सील की गयी हैं. इसमें सिटी सदर पहाड़गंज क्षेत्र स्थित रामनगर एवं दरियागंज में 12 स्टिल्ट पार्किग सील की गयीं हैं. इसी तरह रोहिणी के सेक्टर-8 एवं 11 में  40 स्टिल्ट पार्किग सील की गयीं. केशवपुरम जोन के शालीमार बाग एवं कमलानगर में 12 स्टिल्ट पार्किग एवं एक बेसमेंट को सील किया गया है. सिविल लाइंस जोन के मुखर्जी नगर एवं मलकागंज में 12 स्टिल्ट पार्किग सील की गयीं.

खासबात यह है कि पुलिस उपलब्ध न हो पाने की वजह से करोलबाग एवं नरेला जोन में सीलिंग की कार्रवाई नहीं हो सकी. पूर्वी दिल्ली नगर निगम क्षेत्र में कुल 16 संबत्तियां सील की गयीं. जबकि दो संपत्तियों को तोड़ा गया है. पूर्वी दिल्ली के शाहदरा जोन स्थित आनंद विहार इलाके में अनधिकृत भू-उपयोग के चलते 14 संपत्तियां सील कर दी गयीं.

भारी पुलिस बल की मौजूदगी में सीलिंग की कार्रवाई चली. यह सभी संपत्तियां सूरजमल विहार, सूर्या निकेतन, श्याम इंकलेव एवं शरद विहार इलाके की हैं. इसके साथ ही पाण्डव नगर इलाके की बी-48, सी-67 को सील किया गया और जितार नगर एवं जगतपुरी में भवन संख्या 20, 21 एवं 9/21 को निगम दस्ते से ढ़हा दिया.