आगामी विधानसभा चुनावों में भी भाजपा के खिलाफ प्रचार करूंगा: हार्दिक

,

पाटीदार नेता एवं नव निर्माण सेना के अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने आज कहा कि वह मध्यप्रदेश, राजस्थान एवं छत्तीसगढ में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों में भी भाजपा के खिलाफ प्रचार करेंगे.

एक कार्यक्रम में शामिल होने आये हार्दिक ने यहां संवाददाताओं से कहा, ''मैं मध्यप्रदेश, राजस्थान एवं छत्तीसगढ में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव में भी सक्रिय रहूंगा और भाजपा के खिलाफ प्रचार करूंगा.''

उन्होंने कहा, ''मैं मध्यप्रदेश में बार-बार आऊंगा. किसी को दिक्कत है तो रोककर दिखाये.''

हार्दिक ने बताया, ''मेरा मध्यप्रदेश में आना किसी को पसंद न आये, तो न आये. लेकिन यहां पर आकर किसानों की भी बात करूंगा, रोजगार एवं युवाओं को अच्छी शिक्षा की भी बात करूंगा.''

भाजपा एवं इससे जुडे संगठनों का नाम लिए बगैर हार्दिक ने कहा, ''जो हिन्दू एवं मुसलमान की राजनीति करते हैं. देश को तोडने की बात करते हैं. उसे वह लोग जातिवाद नहीं कहते. उसे वह लोग राष्ट्रवाद कहते हैं.''

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा, ''चौहान बडी-बडी बातें करने में माहिर हैं. यह मामा लेने वाला है, कुछ देने वाले नहीं है.''

हार्दिक ने कहा, ''मध्यप्रदेश में चुपचाप भ्रष्टाचार चलता है. प्रदेश के अंदर किसानों पर पिछले साल मंदसौर गोलीकांड हुआ और बडे पैमाने पर व्यापमं घोटाला हुआ.''

उन्होंने कहा, ''मैं मध्यप्रदेश में मुख्य रूप से व्यापमं घोटाला, स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू करने एवं उच्चतम न्यायालय की सिफारिश के बाद भी 27 प्रतिशत ओबीसी का आरक्षण क्यों नहीं हो रहा है. इन तीन मुद्दों पर मैं बार-बार बात करता रहूंगा.''

हार्दिक ने कहा, ''मैं यहां चुनावी राजनीति नहीं कर रहा हूं. मैं अभी 24 साल का हूं और चुनाव नहीं लड सकता.''



कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने के सवाल पर उन्होंने कहा, ''मैं हिन्दुस्तानी से मिल रहा हूं. आतंकवादी से नहीं मिल रहा हूं.''

एक सवाल पर उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि नीरव मोदी एवं विजय माल्या जिस तरह भाग गये, उससे लगता है कि भाजपा का कालाधन लाकर प्रत्येक भारतीय को 15 लाख रूपये देने की वादा तो दूर. अब लोगों को अपने खाते से देने पडेंगे.