महाप्रबंधक रैंक का अधिकारी गिरफ्तार

,

सीबीआई ने पीएनबी घोटाला मामले में यहां बैंक के मुख्यालय में तैनात महाप्रबंधक रैंक के एक अधिकारी को गिरफ्तार किया है.

अधिकारियों ने बताया कि राजेश जिंदल को मंगलवार रात हिरासत में लिया गया. वह 2009-2011 तक मुंबई में बैंक की ब्रैडी हाउस शाखा का प्रमुख था.

आरोप हैं कि नीरव मोदी समूह की कंपनियों को जिंदल के कार्यकाल में ही बिना कर्ज सीमा वाले लेटर्स ऑफ अंडरटेकिंग देना शुरू हुआ था. वह फिलहाल नई दिल्ली में पीएनबी मुख्यालय में महाप्रबंधक (क्रेडिट) के पद पर कार्यरत है.

केंद्र ने एसआईटी के गठन का किया विरोध : केंद्र ने घोटाले की स्वतंत्र जांच कराने और हीरों के अरबपति व्यापारी नीरव मोदी को वापस लाने के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) के गठन की याचिका का बुधवार को उच्चतम न्यायालय में विरोध किया. सरकार ने कहा कि इस मामले में प्राथमिकी दर्ज की जा चुकी है और जांच जारी है.

चार मुखौटा कंपनियों समेत 17 जगहों पर छापेमारी :  प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पीएनबी घोटाला मामले में छापेमारी बुधवार को सातवें दिन भी जारी रखी. ईडी ने मुंबई में चार मुखौटा कंपनियों समेत देश भर में 17 जगहों पर तलाशी ली. वहीं आयकर विभाग ने इसी मामले में अपनी जांच के तहत 145 करोड़ रुपए मूल्य की संपत्तियां कुर्क की हैं.

जबकि ईडी ने 10 करोड़ रुपए मूल्य की संपत्तियां जब्त कीं. आयकर विभाग का कहना है कि उसने नीरव मोदी समूह के कुल मिलाकर 141 बैंक खाते तथा 145.74 करोड़ रुपए मूल्य की सावधि जमाओं को कुर्क किया.