MeToo: बिग बी ने तोड़ी चुप्पी, कहा- किसी भी महिला के साथ दुर्व्यवहार और गलत आचरण के खिलाफ

वार्ता, मुंबई

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने महिलाओं के शारीरिक उत्पीड़न पर कहा है कि किसी भी महिला के साथ र्दुव्‍यवहार या अपमानजनक आचरण नहीं होना चाहिए।

मीटू मूवमेंट के दौरान बॉलीवुड के कई सितारों पर शारीरिक उत्पीड़न के आरोप लग रहे हैं।

अमिताभ बच्चन ने इस मामले में कहा है किसी भी महिला के साथ किसी भी प्रकार का र्दुव्‍यवहार या अपमानजनक आचरण नहीं होना चाहिए और ऐसे जघन्य कृत्यों को तुरंत संबंधित अधिकारियों के नोटिस में लाया जाना चाहिए। शिकायत दर्ज कराकर या कानून का सहारा लेकर तुरंत सुधारात्मक कदम उठाए जाने चाहिए।

अमिताभ बच्चन ने कहा कि सामाजिकता, नैतिकता, अनुशासन के पाठ्यक्रम को प्रारंभिक शिक्षा के स्तर पर ही शामिल किया जाना चाहिए। अमिताभ ने कहा कि महिलाएं, बच्चे और समाज के कमजोर वर्ग को विशेष सुरक्षात्मक देखभाल की जरूरत है। यह देखना उत्साहजनक है कि वर्कप्लेस पर महिलाओं का प्रतिनिधित्व बढ़ रहा है। ऐसे में हम अगर उनके अनुरूप उनका स्वागत नहीं कर पाए या उनकी गरिमा की सुरक्षा नहीं कर पाए तो यह एक कभी न मिटने वाले कलंक जैसा होगा।

गौरतलब है कि मुंबई फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े कई अभिनेताओं और फिल्म निर्माताओं पर अनेक अभिनेत्रयों ने शारीरिक उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं इनमें नाना पाटेकर, विकास बहल,सुभाष घई, साजिद खान, कैलाश खेर और संस्कारी बापू के नाम से विख्यात आलोक नाथ के अलावा अन्नू मलिक, रजत कपूर, नवाजुद्दीन सिद्दीकी का नाम भी शामिल है।