हमले के बाद सीरिया छोड़ना चाहता है अमेरिका

एएफपी, वाशिंगटन

व्हाइट हाउस का कहना है कि सीरिया में अमेरिकी मिशन में कोई बदलाव नहीं आया है और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जल्द से जल्द अपने सुरक्षा बलों की घर वापसी चाहते हैं। अमेरिकी प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने कहा, अमेरिकी मिशन में कोई बदलाव नहीं आया है..राष्ट्रपति इस बात को स्पष्ट कर चुके हैं कि वह जल्द से जल्द अमेरिकी बलों की घर वापसी चाहते हैं।

फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों के ट्रंप को सीरिया में लंबे समय के बने रहने के लिए मना लेने  की बात कहने के कुछ घंटों बाद सारा ने यह बयान दिया। सारा ने कहा, हम आईएस के खात्मे और उनकी वापसी रोकने को लेकर प्रतिबद्ध हैं। हम इस संबंध में हमारे क्षेत्रीय सहयोगियों एवं भागीदारों से क्षेत्र की रक्षा के लिए सैन्य एवं आर्थिक दोनों पक्षों की जिम्मेदारी लेने की उम्मीद करते हैं।

ओपीसीडब्ल्यू जहरीले हथियारों को खत्म करे : फ्रांस ने सोमवार को कहा, सीरिया में ‘गुप्त’ जहरीले हथियार कार्यक्रमों को नेस्तनाबूद करने के लिए ओपीसीडब्ल्यू को बढ़ावा देने की जरूरत है। फ्रांस के दूत फिलीप ललिओट ने रासायनिक हथियारों के निषेध के वैश्विक संगठन की आपात बैठक में कहा, आज प्राथमिकता सीरियाई कार्यक्रम के संपूर्ण नेस्तनाबूद की है।

दूत ने कहा, हालिया हमलों के बाद हम सब जानते हैं कि सीरिया ने 2013 से गुप्त रासायनिक कार्यक्रम चला रखा है। वर्ष 2013 में सीरिया ने जहरीले हथियारों के भंडार की बात स्वीकार की थी।