शाह ने कांग्रेस को मोदी के 4 साल और उसके 55 साल के कार्यों पर बहस की दी चुनौती

वार्ता , नरहरपुर (छत्तीसगढ़)

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस को मोदी सरकार के चार वर्षों के कार्यों और उसके 55 वर्ष के कार्यों पर बहस की खुली चुनौती दी है।

शाह ने आज यहां मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह की एक माह पूर्व शुरू हुई अटल विकास यात्रा के समापन कार्यक्रम में एक बड़ी सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार के चार वर्ष के कार्यकाल में जितने काम हुए हैं, छत्तीसगढ़ की रमन सरकार के 15 वर्ष के कार्यकाल में जो काम हुए हैं, उस पर देश पर 55 वर्ष तक राज करने वाली कांग्रेस से खुली चर्चा करने को तैयार है। उन्होंने कहा कि वह चुनौती देते है कि वह आकर खुलेमंच पर चर्चा करे।

उन्होंने कांग्रेस पर नक्सलियों के साथ सम्बन्ध रखने का भी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि नक्सलियों के साथ कांग्रेस के रिश्ते रहे है यह सभी को पता है। उन्होंने कहा कि

सत्ता में बने रहने के लिए इस नापाक रिश्ते को तोड़ने के साथ ही छत्तीसगढ़ में भी 15 वर्षों से रमन सरकार नक्सलवाद के खात्मे में जुटी है और आज वह अन्तिम सांसें ले रहा है।

छत्तीसगढ़ में पिछले कुछ समय से सीडी के मामलों के चर्चा में बने रहने पर भी कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि सीडी के चरिए चरित्र हनन करना फिर इसके जरिए सत्ता पर कांग्रेस कब्जा करना चाहती है, लेकिन अब सच सामने आने के बाद राज की जनता इन्हें मुंहतोड़ जवाब देगी।

उन्होंने कहा कि हम चतुराई की राजनीति नहीं करते बल्कि काम करके जनता के बीच फिर जनादेश मांगने जाते हैं।

शाह ने मुख्यमंत्री डॉ सिंह की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने 11 हजार किलोमीटर की अटल विकास यात्रा कर लोगों के बीच जाकर अपने काम का हिसाब दिया और 2025 तक खुद अटल बिहारी वाजपेयी के सपनों का छत्तीसगढ़ बनाने के लिए फिर जनादेश मांग रहे हैं।

उन्होंने कहा कि आज के दौर में जब दो तीन वर्ष में ही सरकारों के प्रति जनाक्रोश उमड़ पड़ता है, वैसे में 15 वर्ष बाद भी उत्साह के साथ जनता के बीच जाकर जनादेश मांगने का साहस भाजपा का ही मुख्यमंत्री कर सकता है।

उन्होंने मोदी सरकार की आयुष्मान भारत, उज्जवला योजना समेत कई कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री खनिज विकास योजना का सबसे बड़ा लाभ

आदिवासियों और वन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को मिला है। देश में 1800 करोड़ रूपए इन क्षेत्रों के विकास के लिए जारी हुए हैं। इससे लाभान्वित होने वाले राज्यों में छत्तीसगढ़ अग्रणी है।   

राज्य में जल्द होने वाले विधानसभा चुनावों का जिक्र करते हुए उन्होंने लोगों से कहा कि इस चुनाव में आपके पास दो विकल्प हैं। एक विकल्प गरीबी हटाने का नारा लगाने वाली और उल्टे गरीबों को खत्म करने वाली कांग्रेस है तो दूसरा विकल्प बगैर कोई नारा लगाए हर गरीब के यहां बिजली, पानी, सड़क और स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाने उनके जीवन को बेहतर बनाने में जुटी भाजपा है।

उन्होंने लोगों से 2018 में रमन को फिर मुख्यमंत्री बनाने और 2019 में मोदी को फिर वोट देकर प्रधानमंत्री बनाने का हाथ उठवाकर संकल्प भी दिलवाया।

मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने इससे पूर्व कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए अटल विकास यात्रा के समापन में भी शामिल होने पर पार्टी अध्यक्ष के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने अपनी सरकार की 15 वर्षों की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए कहा कि उनका 2025 तक अटल जी के सपनों का छत्तीसगढ़ बनाने का मुख्य लक्ष्य है। इस मौके पर विभिन्न शासकीय योजनाओं के लाभार्थियों को चेक अनुदान बोनस आदि भी वितरित किए गए। मुख्य रूप से तेंदू पत्ते के बोनस का वितरण किया गया।