वित्तीय संकट से जूझ रहे पाक ने IMF की शरण ली

आईएएनएस, इस्लामाबाद

पाकिस्तान सरकार ने भुगतान संतुलन के संकट से निपटने और स्थिरीकरण कार्यक्रम में प्रवेश के लिए अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से संपर्क करने के अपने फैसले की घोषणा की है।
डॉन न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त मंत्री असद उमर इंडोनेशिया के बाली में आईएमएफ और वर्ल्ड बैंक की वाषिर्क बैठक में शामिल होने के लिए सोमवार रात रवाना हो गए। यह बैठक 12 अक्टूबर तक चलेगी और वह इसमें आधिकारिक रूप से बेलआउट कार्यक्रम का अनुरोध करेंगे। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा, सरकार ने स्थिरीकरण और आर्थिक बहाली कार्यक्रम के लिए आईएमएफ  से संपर्क करने का फैसला किया है। शेयर बाजार में 1300 से ज्यादा अंकों की गिवारट के साथ पाकिस्तान को अपने पूंजीकरण में करीब 270 अरब पाकिस्तानी रुपये का नुकसान हुआ है, जो कि एक दशक में एक दिन में होने वाला सबसे ज्यादा नुकसान है। इसके बाद वित्त मंत्रालय का यह बयान आया है। प्रधानमंत्री इमरान खान ने आईएमएफ से मदद मांगने के बजाए अन्य विकल्पों की तलाश की लेकिन इसमें उन्हें सफलता नहीं मिली।