राजस्थान के हिडौन में दलित नेताओं के घरों में तोड़फोड़, आगजनी

सहारा न्यूज ब्यूरो, जयपुर

दलित संगठनों के सोमवार को भारत बंद के दौरान हुई हिंसा, आगजनी व तोड़फोड़ के लिए दोषी लोगों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर मंगलवार को करौली जिले के हिंडौन कस्बे में फिर हिंसा भड़क गई।

गुस्साई भीड़ ने दो दलित नेताओं के घर धावा बोल दिया और दोनों के घरों को आग के हवाले कर दिया। इसके साथ ही भीड़ ने दलित समाज के एक हॉस्टल में तोड़फोड़ की और एक कॉमर्शियल बिल्डिंग को भी आग लगा दी।

उग्र भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने पहले आंसू गैस के गोले छोड़े लेकिन जब इससे भी हालात काबू नहीं हुए तो रबर की गोलियां दागी।

तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए कस्बे में कर्फ्यू लगा दिया गया और अगले आदेश तक हिंडौन के साथ ही आसपास के कस्बों में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई। साथ ही कस्बे में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

जिन दो दलित नेताओं के घरों को भीड़ ने निशाना बनाया, उनमें हिंडौन से मौजूदा भाजपा विधायक राजकुमारी जाटव और पूर्व विधायक भरोसीलाल जाटव के घर शामिल हैं।

गौरतलब है कि कस्बे में सोमवार को दलित संगठनों के भारत बंद के दौरान जमकर हिंसा, तोड़फोड़ व आगजनी हुई थी।