मोदी ने खरीद प्रक्रिया का पालन नहीं किया

वार्ता, पुड्डुचेरी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री जयपाल रेड्डी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर राफेल विमान सौदे को लेकर गंभीर आरोप लगाते हुए सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री रक्षा खरीद प्रक्रियाओं का पालन करने में विफल रहे हैं।
रेड्डी ने यहां कहा, रक्षा सौदे को आमतौर पर एक विस्तृत, धीमी और अत्यंत संयत प्रक्रियाओं से गुजरना पड़ता है। मोदी ने अपने निजी अधिकारों का इस्तेमाल करके राफेल जेट विमान की खरीद का सौदा करने का फैसला लिया था जबकि प्रधानमंत्री अपने बूते पर इतने बड़े वाणिज्यिक सौदे के बारे में निर्णय नहीं ले सकते। उन्होंने कहा, यह 17वीं शताब्दी के फ्रांसीसी सम्राट लुईस 14 की याद ताजा करता है जिसने कहा था कि मैं ही राष्ट्र हूं।
रेड्डी ने आरोप लगाया कि विमानों की खरीद के लिए फ्रांस की कंपनी के साथ हुई नये सौदे से देश को 41 हजार करोड़ रुपये का नुकसान होगा।  कांग्रेस के नेतृत्व वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार ने 126 विमानों के खरीद का सौदा किया था लेकिन मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार ने 36 विमानों की खरीद का फैसला किया और वह भी बहुत ऊंची कीमतों पर। उन्होंने राफेल विमान सौदे को प्रधानमंत्री की ‘एक बड़ी गलती’ करार दिया।