मोदी के जम्मू दौरे को लेकर सुरक्षा एजेंसियां सतर्क

सहारा न्यूज ब्यूरो, जम्मू

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सूबे दौरे से ठीक पहले आतंकी-दस्ते की घुसपैठ को लेकर सुरक्षा एजेंसियां सतर्क गई हैं। वहीं अन्य प्रबंधों को लेकर सूबे की सरकार व प्रशासन में हड़कंप मचा है। मालूम हो कि प्रधानमंत्री मोदी आगामी 19 मई को सूबे के तीनों संभागों जम्मू, कश्मीर तथा लद्दाख में आयोजित किए जा रहे कार्यक्रमों में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। इसे लेकर सेना, पुलिस व अन्य सुरक्षाबल हाई अलर्ट पर हैं।

प्रधानमंत्री के इस दौरे को लेकर मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती तथा उपमुख्यमंत्री कवींद्र गुप्ता प्रशासनिक अफसरों के साथ बैठकें कर सभी को आपस में बेहतरीन समन्वय बनाए रखने की हिदायत देने में लगे हैं। सभी विभागों को आपस में तालमेल रखने को कहा गया है कि ताकि प्रधानमंत्री मोदी की यात्रा के दौरान किसी भी प्रकार की कोताही न हो। सूत्रों का कहना है कि इस संबंध में जम्मू, कश्मीर तथा लद्दाख के मंडलायक्तों को कड़े निर्देष दिए गए हैं।

बताते चलें कि प्रधानमंत्री मोदी 19 मई को सुबह उत्तरी कश्मीर के बांडीपोरा स्थित कृष्ण गंगा हाईड्रोइलेक्ट्रासिटी परियोजना के उदघाटन, लद्दाख के लेह में लददखी अध्यात्मिक गुरु कुषक बाकुला की 100वीं वषर्गांठ के मौके पर आयोजित एक भव्य कार्यक्रम के बाद जम्मू में दो कार्यक्रमों में शिरकत करेंगें। इनमें एक कार्यक्रम जम्मू विविद्यालय के जनरल जोरावर सिंह सभागार में तथा दूसरा मां वैष्णो देवी के आधार शिविर कटरा से भवन तक के लिए तारकोट मार्ग का औपचारिक उद्घाटन करेंगें जिन्हें लेकर मां वैष्णों देवी श्राइन बोर्ड की ओर से भी कार्यक्रम संबंधी प्रबंध को लेकर कदम उठाए जा रहे हैं।

उपमुख्यमंत्री कवींद्र गुप्ता ने पूछने पर बताया कि प्रधानमंत्री के दौरे को कामयाब बनाने के लिए प्रशासनिक स्तर पर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। वहीं सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े एक आला अफसर ने कहा कि पांच आतंकियों के एक दस्ते की भारत-पाक सीमा के हीरानगर सेक्टर से घुसपैठ होने के बाद से सभी सुरक्षा एजेंसियां हाई अलर्ट पर हैं और घुसपैठ आतंकी-दस्ते की तलाश में व्यापक अभियान चलाया गया है।