मोंटे कार्लो मास्टर्स टूनार्मेंट: जोकोविच ने कोरिच को हराया, नडाल भी जीते

आईएएनएस/एएफपी, रूकेब्रूने-कैप-मार्टिन

दुनिया के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी नोवाक जोकोविच को मोंटे कालरे टेनिस टूर्नामेंट में बोर्ना कोरिच को हराने के लिए 10 मैच प्वाइंट की जरूरत पड़ी जबकि रफेल नडाल ने आसान जीत के साथ एटीपी टूर पर सकारात्मक वापसी की।

दो बार के चैंपियन सर्बिया के नोवाक जोकोविच को यहां मोंटे कार्लो मास्टर्स टूनार्मेंट के अंतिम-16 दौर में पहुंचने के लिए पसीना बहाना पड़ा। एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को नौंवी सीड जोकोविच ने क्रोएशिया के बोर्ना कोरिक को 7-6, 7-5 से मात देने के लिए दो घंटे 16 मिनट का सहारा लेना पड़ा।

दुनिया के 13वें नंबर के खिलाड़ी जोकोविच यहां 2013 और 2015 में खिताब जीत चुके हैं। प्री-क्वार्टरफाइनल में जोकोविच का सामना आस्ट्रिया के डोमिनीक थिएम से होगा।

जोकोविच अगर अंतिम-16 दौर के मुकाबले जीत जाते हैं तो क्वार्टरफाइनल में उनकी भिड़ंत विश्व के नंबर-1 खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल से होगी।

नडाल ने वर्ल्ड नम्बर-58 बेदेने को केवल 77 मिनट के भीतर सीधे सेटों में 6-1, 6-3 से मात दी। प्री-क्वार्टर फाइनल में अब नडाल का सामना रूस के वर्ल्ड नम्बर-38 कारेन काचानोव से होगा।

उल्लेखनीय है कि हिप की चोट के कारण नडाल काफी समय से परेशान थे और इस कारण वह आस्ट्रेलिया ओपन के बीच में ही बाहर हो गए।

नडाल ने इस टूर्नामेंट में 10 बार खिताबी जीत हासिल की है। ऐसे में अगर उन्हें शीर्ष स्तर पर बने रहना है, तो उन्हें इस टूर्नामेंट को 11वीं बार भी जीतना होगा। अगर ऐसा नहीं हुआ तो, स्विट्जरलैंड के दिग्गज रोजर फेडरर उन्हें पछाड़कर विश्व रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल कर लेंगे।