मुजफ्फरपुर बालिका अल्पवास गृह यौन शोषण मामला : आखिर छोड़नी पड़ी कुर्सी

सहारा न्यूज ब्यूरो, पटना

बिहार की समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा ने मुजफ्फरपुर बालिका अल्पावास गृह यौन शोषण मामले को लेकर बुधवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। सूत्रों ने यहां बताया कि श्रीमती वर्मा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से उनके आवास पर मुलाकात के बाद उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया।
श्रीमती वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा की यौन शोषण कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर से फोन पर हुई बातचीत के खुलासे के बाद से ही उन पर मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने का दबाव विपक्ष की ओर से बनाया जा रहा था। हालांकि श्रीमती वर्मा ने इस मामले में अपने पति की किसी भी तरह से संलिप्तता से इनकार किया था। इससे पूर्व आज मुजफ्फरपुर न्यायालय में पेशी के दौरान मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर ने पत्रकारों से बातचीत में एक बार फिर दोहराया कि चंद्रशेखर वर्मा के साथ उसकी कई बार बातचीत हुई है।
वहीं, इससे पहले पुलिस जांच में भी ब्रजेश के मोबाइल फोन की कॉल डिटेल रिकॉर्ड (सीडीआर) में श्री वर्मा के साथ 17 बार बातचीत होने की पुष्टि हुई है। इसके बाद से श्रीमती वर्मा पर इस्तीफे के लिए और भी दबाव बढ़ गया था। वहीं, समाज कल्याण विभाग ने टीआईएसएस की अंकेक्षण रिपोर्ट पर कार्रवाई में देर करने के आरोप में विभाग के सहायक निदेशक दिवेश  कुमार शर्मा समेत 13 अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। इस मामले में श्री  शर्मा ने ही 31 मई 2018 को महिला थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी।