मध्य प्रदेश: शिवराज का कर्मचारियों को तोहफा, रिटायरमेंट उम्र 62 हुई

आईएएनएस, भोपाल

सरकारी कर्मचारियों की पदोन्नति में आरक्षण की व्यवस्था के कारण सामान्य वर्ग के कर्मचारी पदोन्नति से वंचित रह जाते हैं, इस बात को ध्यान में रखकर मध्य प्रदेश सरकार ने सेवानिवृत्ति की आयु 60 साल से बढ़ाकर 62 साल कर दी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की।

यहां के स्थानीय होटल में आयोजित 'प्रेस से मिलिए' कार्यक्रम में चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने वरिष्ठता के मुताबिक मिलने वाली पदोन्नति का लाभ हर कर्मचारी को मिले, इसे ध्यान में रखते हुए सेवानिवृत्ति की आयु में दो वर्ष की बढ़ोतरी का फैसला लिया है। लिहाजा अब कर्मचारी 60 नहीं बल्कि 62 की आयु में सेवानिवृत्त होंगे।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि कई बार कर्मचारी अपने सेवाकाल की निर्धारित पदोन्नति का लाभ नहीं हासिल कर पाते हैं और सेवानिवृत्त हो जाते हैं, लिहाजा सरकार ने तय किया है कि कर्मचारियों को उनका हक मिले इसलिए सेवानिवृत्ति की आयु में दो साल का इजाफा किया गया है।

चौहान ने राज्य में महिलाओं और बालिकाओं की सुरक्षा का संकल्प एक बार फिर दोहराया और कहा कि मनचलों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा।