मदर्स डे पर महिलाओं को स्तन कैंसर के मुफ्त जांच की सुविधा

वार्ता, हमीरपुर

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के युवा नेता अनुराग ठाकुर ने आज ‘मदर्स डे’ पर सभी मातृशक्तियों को शुभकामनाएं देते हुए अपने संसदीय क्षेत्र में सभी महिलाओं को स्तन कैंसर के मुफ़्त प्रारम्भिक जांच की सुविधा प्रदान की।

ठाकुर ने बताया कि स्तर कैंसर की प्रारंभिक जांच के लिए विदेश से आयातित मशीन को ‘सांसद मोबाइल स्वास्थ सेवा’ की मोबाइल मेडिकल यूनिट में उपलब्ध कराया गया है।
उन्होंने कहा कि वह देश के पहले ऐसे सांसद है जो इस तरह की सुविधा लोगों के घर पर उपलब्ध करा रहे हैं। उन्होंने इसे कसौली हत्याकांड में शहीद हुई हिमाचल की वीर बेटी शैलबाला और सभी मातृशक्तियों को समर्पित किया।

अपने संसदीय क्षेत्र की जनता को बेहतर  स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के लिए हाल ही में शुरू की गई उनकी मुहिम सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा लगातार लोगों के बीच पहुंच कर उन्हें बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करा रही है। इस सेवा के तहत शुरुआती आठ दिन में ही 1610 से अधिक पंजीकरण तथा 1607 सेा्यादा मरीजो का इलाज हो चुका है। श्री ठाकुर ने अपने संसदीय क्षेा में बेटियों के बेहतर स्वास्थ के लिए सांसद बेटी स्वाभिमान योजना की शुरूआत की है जिसके अंतर्गत 10 वर्ष से लेकर 19 वर्ष तक की बेटियों को मासिक धर्म के दौरान अच्छे स्वास्थ्य एवं स्वच्छता की जरूरत के मद्देनार मुफ़्त सैनेटरी पैड उपलब्ध कराये जाने का प्रावधान है।

श्री ठाकुर ने मदर्स डे पर मातृशक्तियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा, मैं उन्हें नमन करता हूं। हमारे जीवन में मां की भूमिका हमेशा अनमोल और जीवन में शामिल दूसरे लोगों से अलग होती है। उन्होंने कहा कि जिस मां ने हमें सब कुछ दिया, उसे हम क्या दे सकते हैं मगर फिर भी इस मदर्स डे पर मैं अपने संसदीय क्षेत्र की मातृशक्तियों के बेहतर स्वास्थ के लिए कुछ अलग करने का प्रयास करने जा रहा हूं। आज पूरी दुनिया में स्तन कैंसर एक जानलेवा बीमारी के रूप में अपनी जड़ें फैलाता जा रहा है, और हम भी इस से अछूते नहीं हैं। साल 2012 में सिर्फ भारत में ही 70 हार महिलाओं को स्तन कैंसर के चलते अपनी जान गंवानी पड़ी। सिर्फ हमारे देश में 2020 तक स्तन कैंसर के मरीजो की संख्या बढ़कर 17 लाख तक होने की आशंका है।
 
उन्होंने कहा ‘‘यह चिकित्सा उपकरण कसौली हत्याकांड में शहीद हुई हिमाचल की वीर बेटी शैलबाला शर्मा के लिए समर्पित किया गया है। वो बिलासपुर की बहादुर बेटी थीं जिन्होंने अपनी कर्तव्यपरायणता और माबूत इरादे के बल पर साहस और ईमानदारी की एक मिसाल क़ायम की। उनके परिवार से मुलाक़ात के बाद मुझे ये एहसास हुआ कि उनका परिवार और सच्चाई का साथ देने के प्रति उनके संस्कार उनकी समस्त शक्ति के सोत थे। सत्य के प्रति बिना डिगे खड़े रहने के उनके जज्बे को मैं सलाम करता हूं।

ठाकुर ने कहा ‘‘मेरे संसदीय क्षेत्र में घुमारवीं की दो बेटियों वर्षा ठाकुर और गरिमा ठाकुर ने मेरे सामने ये मुद्दा प्रमुखता से उठाया। कैंसर की जांच के लिए अपनाये जा रहे परंपरागत तरीकों की विफलता और इसकी जांच में लगने वाला समय ही इस बीमारी के बढ़ने का बड़ा कारण है। इसलिए मैं अपने संसदीय क्षेत्र में स्तन कैंसर की शुरुआती जांच के लिए विदेश से आयातित स्तन कैंसर स्क्रीनिंग मशीन से इसकी जांच की सुविधा उपलब्ध करा रहा हूं।