भारत बंद ऐतिहासिक रहा, पेट्रोल-डीजल की कीमतें तत्काल कम करे सरकार: कांग्रेस

भाषा, नयी दिल्ली

कांग्रेस ने सोमवार को बुलाये 'भारत बंद' को ऐतिहासिक और सफल करार देते हुए कहा कि सरकार पेट्रोल, डीजल और रसोईं गैस पर उत्पाद शुल्क में कटौती कर जनता को तत्काल राहत दे।     

पार्टी ने यह भी दावा किया कि सरकार पेट्रोलियम उत्पादों में कीमत में बढ़ोतरी के लिए जिन अंतरराष्ट्रीय कारणों का हवाला दे रही है, वो 'झूठ का पुलिंदा ' हैं।     

कांग्रेस के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने संवाददाताओं से कहा, '' भारत बंद पूरे देश में कामयाब रहा। यह ऐतिहासिक है। इसके सभी देशवासियों, राजनीतिक दलों का धन्यवाद करते हैं।''   

उन्होंने कहा, ''2014 के चुनाव से पहले पूरे देश को गुमराह किया गया और ऐसा माहौल बना दिया गया कि मोदी जी सत्ता में आएंगे तो आसमान से तारे तोड़कर लाएंगे। अब देखिये स्थिति क्या है।     

गहलोत ने कहा, ''पहली बार देखा कि सत्ताधारी दल अपनी कार्यकारिणी में जनता के मुद्दों पर बात नहीं करती है। उनको विपक्ष की चिंता है। यह कहते हैं कि गठबंधन टिकेगा नहीं। अगर नहीं टिकेगा तो चिंता उन्हें क्यों हो रही है।''     

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ''प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री मौनी बाबा बन गए हैं। उन्होंने दो मंत्रियों को जवाब देने के लिए उतारा। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हम कीमतें कम करने में असहाय हैं। कीमतें बढ़ने के लिए सरकार जो आधार बता रही है वो झूठ का पुलिंदा है।''   

उन्होंने दावा किया, ''पेट्रोल पर 210 फीसदी और डीजल पर 443 फीसदी उत्पाद शुल्क बढ़ाया। 11लाख करोड़ रुपये की लूट की गई। हम चुनौती देते हैं कि आप बढ़ी हुई उत्पाद शुल्क कम करें। ''   

सुरजेवाला ने कहा, ''जब हम सरकार में थे तो डीजल 55.59 रुपये प्रति लीटर और पेट्रोल की कीमत 63 रुपये प्रति लीटर थी और आज डीजल 73 रुपये प्रति लीटर और पेट्रोल करीब 80 रुपये प्रति लीटर है।''