भारत और चीन सामरिक संबंध बढ़ाएंगे

सहारा न्यूज ब्यूरो, नई दिल्ली

भारत और चीन ने रक्षा सहयोग और सामरिक संबंधों को प्रगाढ़ बनाने के प्रति सहमति जताई है।

भारत और चीन के रक्षा मंत्रियों के बीच बृहस्पतिवार को यहां हुई शिष्टमंडल स्तर की वार्ता में इस बात पर जोर दिया गया।

भारत की यात्रा पर आए चीन के रक्षामंत्री जनरल वी फेंग्हे ने सुबह श्रीमती सीतारमण से मुलाकात की जिसके बाद दोनों पक्षों के बीच शिष्टमंडल स्तर की वार्ता हुई।  इससे पहले जनरल वी ने सलामी गारद का निरीक्षण किया।

श्रीमती सीतारमण ने बातचीत के बाद ट्वीट किया,  चीनी रक्षा मंत्री के साथ शिष्टमंडल स्तर की वार्ता हुई जिसमें भारत और चीन के बीच रक्षा सहयोग और सामरिक संबंधों को मजबूत बनाने पर जोर दिया गया। दोनों देशों की सेनाओं के बीच गत जुलाई में डोकलाम क्षेत्र में लगभग ढाई महीने चले गतिरोध के बाद चीन का कोई वरिष्ठ रक्षा अधिकारी पहली बार भारत यात्रा पर आया है।

समझा जाता है कि दोनों पक्षों ने बातचीत के दौरान सीमा पर परस्पर विश्वास बढ़ाने के उपायों तथा वास्तविक नियंत्रण रेखा से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर विस्तार से बातचीत की। दोनों देशों के बीच लगभग साढ़े तीन हजार किलोमीटर लंबी सीमा है जिस पर कई क्षेत्रों में दोनों के बीच विवाद है।

चार दिन की यात्रा पर आए जनरल वी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी मुलाकात की थी।