भारतीय बल्लेबाजों ने फिर किया निराश, इंग्लैंड मजबूत

वार्ता, लंदन

भारतीय गेंदबाजों के इंग्लैंड को पहली पारी में 332 रन पर नियंत्रित करने के बाद बल्लेबाज एक बार फिर अच्छी शुरुआत दिलाने में नाकाम रहे और मेहमान टीम ने पांचवें और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन शनिवार को खेल समाप्त होने तक 174 रन पर अपने अहम छह विकेट गंवा दिये।
भारतीय टीम ने पहली पारी में दिन का खेल पूरा होने तक 51 ओवरों के खेल में छह विकेट पर 174 रन बना लिये हैं और वह इंग्लैंड के स्कोर से अभी 158 रन पीछे है। भारतीय टीम के अभी चार विकेट शेष हैं और अपना पहला टेस्ट खेल रहे हनुमा विहारी 25 रन और इस सीरीा में पहली बार अंतिम एकादश में शामिल किये गये रवींद्र जडेजा 8 रन बनाकर क्रीा पर हैं।
भारतीय टीम की पहली पारी में शुरूआत खराब रही और ओप¨नग क्रम के बल्लेबा शिखर धवन मात्र तीन रन बनाकर आउट हो गये। एकमात्र कप्तान विराट कोहली ने गिरते विकेटों के बीच संयंम भरी पारी खेली लेकिन वह भी अपने अर्धशतक से एक रन पहले 49 के स्कोर पर बेन स्टोक्स की गेंद पर कप्तान जो रूट को कैच दे बैठे। भारत के लिए दिन के विराट ही बड़े स्कोरर रहे जबकि ओपनर लोकेश राहुल और चेतेर पुजारा ने 37-37 रन बनाये।
इंग्लैंड की तरफ से जेम्स एंडरसन ने 20 रन पर दो विकेट और स्टोक्स ने 44 रन देकर दो विकेट निकाले। ब्रॉड को 25 रन और सैम करेन को 46 रन पर भारत का एक विकेट हाथ लगा।
भारत ने पहली पारी में चायकाल तक एक विकेट खोकर 53 रन बनाये थे लेकिन चायकाल के बाद उसके बल्लेबाजों ने लगातार अंतराल पर विकेट गंवाये और उसके बाकी पांच विकेट रन जोड़कर गिर गये। मेहमान टीम की शुरुआत काफी खराब रही और उसने अपना पहला विकेट मात्र छह रन के स्कोर पर शिखर धवन के रूप में खो दिया। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज ब्रॉड ने धवन (3) को पगबाधा किया। भारत की सलामी जोड़ी पहले विकेट के लिए केवल छह रन ही जोड़ सकी। धवन केवल छह गेंदों का सामना करने के बाद ही पवेलियन लौट गए।  इसके बाद तीसरे नंबर के बल्लेबाज पुजारा ने राहुल के साथ मिलकर पारी को संभाला और दूसरे विकेट के  लिए 64 रन की अर्धशतकीय साझेदारी की। राहुल को करेन ने बोल्ड कर इस साझेदारी पर ब्रेक लगा दिया। पुजारा ने फिर विराट के साथ 31 रन जोड़े। लेकिन कोई बड़ी साझेदारी नहीं हो सकी और पुजारा 101 गेंदों में पांच चौके लगाकर एंडरसन का शिकार बन गये। वहीं अजिंक्या रहाणे शून्य पर एंडरसन की गेंद पर एलेस्टेयर कुक को कैच देकर चौथे बल्लेबाज के रूप में आउट हो गये।
विराट ने फिर पारी को संभालने की कोशिश की और 70 गेंदों में छह चौके लगाकर 49 रन बनाये। लेकिन जब वह अपने अर्धशतक से केवल एक रन दूर थे तभी स्टोक्स ने उन्हें रूट के हाथों कैच कराकर भारत का पांचवां अहम विकेट भी निकाल दिया। विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत भी पांच रन ही बना सके। उन्हें स्टोक्स ने कुक के हाथों कैच कराकर भारत का छठा और दिन का आखिरी विकेट निकाला। मैच समाप्ति तक हनुमा 25 रन और जडेजा 8 रन पर नाबाद हैं। इससे पहले इंग्लैंड ने जोस बटलर (89) और स्टुअर्ट ब्रॉड (38) की शानदार पारियों की बदौलत अपनी पहली पारी में 332 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। इंग्लैंड ने टेस्ट के दूसरे दिन कल के 198 रन पर सात विकेट के स्कोर से आगे खेलना शुरू किया।  बटलर ने पुछल्ले बल्लेबाज आदिल रशीद (15) और स्टुअर्ट ब्रॉड (38) के साथ महत्वपूर्ण साझेदारी कर लंच तक इंग्लैंड के स्कोर को 300 के पार पहुंचा दिया। लंच से पूर्व भारतीय टीम को केवल आदिल राशिद के रूप में एक ही विकेट मिल सका जिन्हें मध्यम तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने 15 रन के स्कोर पर पगबाधा किया।  बटलर और ब्रॉड ने नौंवे विकेट के लिए 98 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की। लंच के बाद जडेजा की गेंद पर राहुल ने शानदार कैच पकड़कर ब्रॉड को चलता करने के साथ ही इस महत्वपूर्ण साझेदारी को तोड़ा। ब्रॉड ने 59 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 38 रन बनाए।  इसके बाद जडेजा की ही गेंद पर रहाणे ने स्लिप में बटलर का कैच पकड़ा जिसके साथ ही इंग्लैंड की पहली पारी का अंत हुआ।