फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों को झटका निकोलस हुलोट ने दिया इस्तीफा

एएफपी, पेरिस

फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों को मंगलवार को उस वक्त करारा सियासी झटका लगा जब उनके लोकप्रिय पर्यावरण मंत्री निकोलस हुलोट ने रेडियो पर सीधे प्रसारण के दौरान इस्तीफा दे दिया। निकोलस ने राष्ट्रपति को अपने इस्तीफे की जानकारी पहले नहीं दी थी।
कैबिनेट के सबसे सम्मानित सदस्यों में शामिल निकोलस ने अपने इस्तीफे का ऐलान करके फ्रांस इंटर रेडियो स्टेशन पर अपना इंटरव्यू लेने वालों को भी चौंका दिया।  निकोलस (62) ने कहा, ‘मैं सरकार छोड़ने का फैसला ले रहा हूं।’ उन्होंने कहा कि पर्यावरण के मुद्दों पर सरकार के भीतर वह ‘एकदम अकेला’ महसूस कर रहे थे।
पर्यावरण से जुड़े मुद्दों पर मुहिम चलाने के लिए मशहूर टीवी शख्सियत रहे निकोलस को मैक्रों ने पिछले साल सरकार में शामिल किया था, लेकिन नीतिगत मुद्दों पर कैबिनेट सहकर्मियों से बार-बार उनके मतभेद हो रहे थे। उन्होंने कहा, ‘हम छोटे-छोटे कदम उठा रहे हैं और फ्रांस कई अन्य देशों से कहीं ज्यादा कर रहा है, लेकिन क्या छोटे-छोटे कदम काफी हैं? जवाब है - नहीं।’
सरकार में निकोलस के भविष्य पर पिछले कई महीनों से अटकलों का बाजार गर्म था। निकोलस ने कहा कि अपने इस्तीफे की योजना के बारे में उन्होंने न तो मैक्रों और न ही प्रधानमंत्री एडुअर्ड फिलिप को सूचना दी थी। उन्होंने कहा, ‘यह एक ईमानदार और जिम्मेदार फैसला है।’ निकोलस के इस्तीफे के बाद मैक्रों (40) की मुश्किलें और बढ सकती हैं।