पेट्रोलियम उत्पादों पर कर जनता बनाम सरकार का मुद्दा : चिदंबरम

पेट्रोलियम उत्पादों पर कर जनता बनाम सरकार का मुद्दा : चिदंबरम, पेट्रोलियम उत्पादों पर कर जनता बनाम सरकार का मुद्दा : चिदंबरम

कांग्रेस नेता और पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम ने मंगलवार को पेट्रोलियम उत्पादों की उच्च कीमतों को लेकर भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) सरकार की करों के बोझ को कम नहीं करने को लेकर आलोचना की और कहा कि यह 'जनता बनाम सरकार' का मुद्दा बन गया है। चिदंबरम ने ट्वीट्स की श्रृंखला में कहा कि लोग पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में कर के बोझ से राहत चाहते हैं।

उन्होंने कहा, "सरकार का कहना है कि पेट्रोल/डीजल के कर में एक रुपये की कटौती से सरकार को 13,000 करोड़ रुपये का नुकसान होगा। इसका मतलब है कि पेट्रोल/डीजल पर लगाया गया प्रत्येक एक रुपये का कर लोगों पर 13,000 करोड़ रुपये का बोझ डालता है।"

उन्होंने कहा, "किसके हितों की जीत होगी। लोगों की या सरकार की? पेट्रोल/डीजल पर लगाए गए करों के बोझ ने यह मामला सरकार बनाम जनता का बना दिया है।"

कांग्रेस ने नरेंद्र मोदी सरकार पर पेट्रोलियम पदार्थो की कीमतों में वृद्धि रोकने में नाकाम रहने का आरोप लगाया है।