पूरे अफगानिस्तान में हिंसा, 50 से अधिक लोगों की मौत

वार्ता, काबुल

अफगानिस्तान के विभिन्न हिस्सों में सोमवार को हिंसात्मक घटनाओं में 50 से अधिक लोगों की मौत हो गई और कईं अन्य घायल हो गए। स्थानीय पुलिस ने बताया, उत्तर बालख प्रांत की राजधानी मजार-ए-शरीफ में बंदूकधारियों ने सोमवार सुबह पूर्व पुलिस अधिकारी तथा एक कालेज छात्र की गोली मार कर हत्या कर दी।

सूत्रों ने बताया, समनगन प्रांत के डारा ए सूफ जिले में तड़के एक सुरक्षा चौकी को निशाना बनाकर किए गए तालिबान आतंकियों के हमले में सरकार समर्थक 14 मिलिशिया लड़ाके मारे गए और छह अन्य घायल हो गए। दक्षिणी कंधार प्रांत की राजधानी कंधार शहर में हमलावरों ने एक व्यक्ति की गोली मार कर हत्या कर दी। इससे पहले कंधार के अरघानदाब जिले में एक अभियान में एक पुलिसकर्मी और तीन तालिबान आतंकी मारे गए थे।

सूत्रों ने बताया, समीपवर्ती हेलमांद प्रांत के गेरीश्क जिले में तालिबान की तरफ से किए गए मोर्टार हमले में छह नागरिकों की मौत हो गई और  छह अन्य घायल हो गए। सेना के प्रवक्ता हानी रिजाई ने बताया, उत्तरी बागलान प्रांत के बागलान ए मरकाजी जिले में सेना के लड़ाकू विमानों की बमबारी में तालिबान का एक शीर्ष आतंकी मुल्ला सैफुद्दीन तथा  उसके 14 मातहत मारे गए।

इस हमले को ए -29 सुपर टूकानों विमानों ने अंजाम दिया था। सेना ने यह कार्रवाई शुक्रवार रात आतंकियों के हमले में 20 सैनिकों के मारे जाने के बाद की है।

इससे पहले दिन में उत्तरी कुंदुज प्रांत में  सुरक्षा बलों तथा तालिबान आतंकियों के बीच भीषण झड़पों में 13 पुलिसकर्मी मारे गए और 10 तालिबान आतंकी ढेर हो गए।  अफगानिस्तान में 20 अक्टूबर को संसद और जिला परिषद चुनाव होने वाले हैं और इसी को देखते हुए अमेरिकी नेतृत्व वाली नाटो गठबंधन सेनाओं के समर्थन से अफगानिस्तान सुरक्षाबलों ने तालिबान के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर रखी है।