नाइजीरिया में आठ लाख लोग भुखमरी के कगार पर

रायटर, आबुजा

यूरोपीय देशों ने संयुक्त राष्ट्र को चेतावनी दी है कि पश्चिमी अफ्रीकी देश नाइजीरिया के उत्तर-पूर्वी इलाके में 800,000 से अधिक लोगों को सहायता से काट दिया गया है जिसके कारण उपके समक्ष भुखमरी की समस्या उत्पन्न हो सकती है।
यूरोपीय संघ, ब्रिटेन, फ्रांस और जर्मनी ने संयुक्त राष्ट्र के आपातकालीन कार्यक्रमों के निर्देशकों और अन्य सहायता एजेंसियों को लिखे पत्र में कहा, संयुक्त राष्ट्र आपदा की तात्कालिकता को दबाने में असफल रहा जिसने बच्चों को भुखमरी के खतरे में डाल दिया है। उन्होंने कहा, हम उत्तर-पूर्व नाइजीरिया में तत्काल मानवतावादी और सुरक्षा आवश्यकता सहायताओं को लेकर बहुत चिंतित है। नाइजीरिया में संरा मिशन को सरकार को जीवन रक्षक सहायता की जरूरत वाले लोगों को तेजी से और बिना छेड़छाड़ किए मानवतावादी पहुंच की अनुमति देने के लिए मजबूर करना चाहिए।
पत्र में कहा गया है कि नाइजीरिया के बोनरे राज्य के 823,000 लोग सहायता के लिए पहुंच वाले इलाके से बाहर है जिन्हें तुरंत मदद पहुंचाने की आवश्यकता है। पिछले 11 महीनों में क्षेत्र छोड़ने वाले बच्चों में कुपोषण की गंभीर समस्या से भी जूझ रहे थे। यह इलाका पिछले एक दशक से खूंखार आतंकी संगठन बोको हराम और इसके सहयोगी आईएस के आतंकी अभियानों से प्रभावित है। नाइजीरिया की सरकार ने भी आतंकी संगठनों के साथ एक दशक लंबे संघर्ष के कारण उत्तर पूर्व इलाके में उत्पन्न आपात स्थिति को मानते हुए कहा, लोगों तक पहुंचाए जाने वाले मदद प्रयासों को मानवतावादी राहत से दीर्घकालिक विकास सहायता में तब्दील किया जाना चाहिए।