दुती, हिमा और अनस को रजत

वार्ता, जकार्ता

फर्राटा धाविका दुती चंद्र ने 18वें एशियाई खेलों के एथलेटिक्स प्रतियोगिता की 100 मीटर दौड़ में ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए रजत पदक जीत लिया जबकि नयी स्टार हिमा दास और मोहम्मद अनस ने भी 400 मीटर दौड़ में  रजत जीते। हालांकि लक्ष्मणन गोविंदन ने पुरुष 10000 मीटर दौड़ में कांस्य पदक जीता लेकिन कुछ देर बाद ही उन्हें बाधा पहुंचाने के आरोप में अयोज्ञ करार दिया गया। एक समय जेंडर विवाद में फंसी ओड़ीशा की दुती ने 100 मीटर के फाइनल में कमाल का प्रदर्शन किया और इस स्पर्धा के स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक का फैसला फोटो फिनिश में हुआ।
दुती ने 11.32 सेकेंड का अपना सर्वश्रेष्ठ समय निकालते हुए रजत पदक जीता। बहरीन की एडिडियोंग ओडियोंग ने 11.30 सेकेंड में स्वर्ण और चीन की योंगली वेई ने 11.33 सेकेंड में कांस्य पदक जीता। स्पर्धा समाप्त होने के बाद विजेताओं के लिए फोटो फिनिश का सहारा लिया गया जिसमें दुती का नाम दूसरे स्थान पर आते ही भारतीय एथलीट ने तिरंगा अपने कंधों पर उठा लिया। दुती के लिए यह पदक गौरव का क्षण था। 22 साल की दुती इस तरह देश की महान एथलीट पी टी उषा के 1986 के सोल एशियाई खेलों में 100 मीटर में रजत पदक जीतने के बाद यह कारनामा करने वाली पहली भारतीय एथलीट बन गयी हैं। वि जूनियर चैंपियनशिप में 400 मीटर दौड़ में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास बनाने वाली 18 साल की हिमा ने शानदार प्रदर्शन किया और 50.79 सेकेंड का समय लेकर रजत जीता। बहरीन की सल्वा नासीर ने 50.09 सेकेंड का नया एशियाई खेल रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण जीता। कजाखिस्तान की एलिना मिखिना ने 52.53 सेकेंड में कांस्य पदक जीता। हिमा की कामयाबी के बाद अनस ने भी शानदार प्रदर्शन किया और पुरुषों की 400 मीटर दौड़ में रजत पदक जीत लिया। केरल के 23 वर्षीय अनस का एशियाई खेलों में यह पहला पदक है। उन्होंने गत वर्ष भुवनेर में एशियाई चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था जबकि इस साल राष्ट्रमंडल खेलों में वह चौथे स्थान पर रहे थे। अनस ने 45.69 सेकेंड का समय लेकर रजत जीता। कतर के अब्दालेह हसन ने 44.89 सेकेंड का समय लेकर स्वर्ण और बहरीन के अली खामिस ने 45.70 सेकेंड का समय लेकर कांस्य जीता। इन दो रजत पदकों के बाद लक्ष्मणन ने 29 मिनट 44.91 सेकेंड का समय लिया और 10000 मीटर दौड़ में कांस्य पदक जीता। लेकिन कुछ देर बाद ही उन्हें अयोज्ञ करार दिया गया और उनके हाथ से कांस्य पदक निकल गया। इस स्पर्धा के स्वर्ण और रजत पदक बहरीन के हाथ लगे जबकि कांस्य चीन के एथलीट को दिया गया।