दिल्ली में शुरू हुई सेवाओं की होम डिलीवरी

सहारा न्यूज ब्यूरो, नई दिल्ली

दिल्ली सरकार ने राजधानी में चालीस सेवाओं की डोर स्टेप डिलीवरी शुरू की है, जिसके पहले दिन दो सौ लोगों ने सोमवार को हेल्पलाइन 1076 पर फोन कर सेवा प्राप्त करने की शुरुआत की। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने सभी मंत्रियों व वरिष्ठ अधिकारियों के साथ सोमवार को सचिवालय में चालीस सेवाओं की डोर स्टेप डिलीवरी कार्यक्रम की शुरुआत की। करीब 58 सरकारी कार्यालयों में इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया गया। वीएफएस ग्लोबल नामक कंपनी को इस योजना को लागू करने का ठेका दिया गया है।
वीएफएस ग्लोबल कंपनी ने डोर स्टेप डिलीवरी के लिए सत्तर एक्जीक्यूटिव नियुक्त किए हैं। प्रत्येक व्यक्ति को डोर स्टेप डिलीवरी के लिए पचास रुपए देने होंगे जबकि वीएफएस ग्लोबल को प्रत्येक सेवा के लिए 115 रुपए मिलेगा।
इस अवसर पर बोलते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अबतक पिज्जा की होम डिलीवरी होती थी लेकिन अब राजधानी में सेवाओं की होम डिलीवरी शुरू की जा रही है। यह नया प्रयोग है। अभी चालीस सेवाओं की डोर स्टेप डिलीवरी शुरू की जा रही है लेकिन जल्द तीस और सेवाएं तीन महीने के भीतर इस सूची में जोड़ दिया जाएगा। इस अवसर पर सेवाओं की डिलीवरी विषय पर प्रेजेन्टेशन दिया गया। इस अवसर पर प्रशासनिक सुधार विभाग के मंत्री कैलाश गहलोत ने प्रशासनिक सुधार विभाग की तारीफ की। उन्होंने कहा कि इस योजना को लागू करने में अनेक कठिनाईयां आई जिसके बाद योजना को सफलता पूर्वक लागू किया जा सका।
300 एक्जीक्यूटिव करेंगे होम डिलीवरी, फिलहाल अभी हैं 70 :  वीएफएस ग्लोबल नामक कंपनी को सेवाओं की होम डिलीवरी का ठेका दिया गया है। कंपनी ने इस काम के लिए फिलहाल 70 एक्जीक्यूटिव लगाए हैं बाद में तीन सौ एक्जीक्यूटिव और लगाए जाएंगे। प्रत्येक एक्जीक्यूटिव प्रतिदिन पंद्रह आवेदनकर्ता से मिलकर उनका फार्म भरेंगे। एक्जीक्यूटिव की सेवा शर्त के अनुसार उन्हें पंद्रह आवेदक से प्रतिदिन मिलना होगा।  

ये हैं 40 सेवाएं

1. ओबीसी जाति प्रमाण पत्र
2. एससी जाति प्रमाण पत्र
3. एसटी जाति प्रमाण पत्र
4. स्थानीय नागरिक होने का प्रमाण पत्र
5. आय प्रमाण पत्र
6. जन्म संबंधी आदेश की प्रति
7. मृत्यु संबंधी आदेश की प्रति
8. लालडोरा सर्टिफिकेट
9. जमीन संबंधी स्टेटस रिपोर्ट
10. दिव्यांग व्यक्ति का परिचय पत्र
11. आरओआर की कॉपी
12. दिवालिया न होने संबंधी सर्टिफिकेट
13. परिवार के सदस्य होने संबंधी सर्टिफिकेट
14. शादी प्रमाण पत्र
15. सिविल डिफेंस वायलंटियर का प्रमाण पत्र
16. पारिवारिक लाभ योजना संबंधी पत्र
17. दिव्यांग व्यक्ति स्कीम
18. वृद्धावस्था पेंशन स्कीम
19. गाड़ी पंजीकरण का डुप्लीकेट सर्टिफिकेट
20. गाड़ी के कागजात में पता बदलना
21. गाड़ी का मालिकाना हक में परिवर्तन
22. गाड़ी खरीद में गिरवी संबंधी नाम जोड़ना
23. गाड़ी खरीद में गिरवी संबंधी नाम हटाना
24. गाड़ी की एनओसी प्राप्त करना
25. लर्निंग लाइसेंस
26. स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस
27. ड्राइविंग लाइसेंस का नवीनीकरण
28. डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस
29. ड्राइविंग लाइसेंस में पता बदलना
30. जल बोर्ड से नया मीटर या सीवर कनेक्शन
31. म्यूटेशन
32. दोबारा पानी कनेक्शन चालू करना
33. पानी कनेक्शन को समाप्त करना
34. खाद्य विभाग से राशनकार्ड बनाना
35. राशनकार्ड में नामों को जोड़ना
36. श्रम विभाग से लिफ्ट लगाने की अनुमति लेना
37. श्रम विभाग से दिल्ली दुकान एक्ट 1954 के तहत कागजात प्राप्त करना
38. एससी/एसटी, ओबीसी, अल्पसंख्यक के लोगों को स्टेशनरी खरीदने को वित्तीय सहायता
39. एससी/एसटी, ओबीसी, अल्पसंख्यक बच्चों को ट्यूशन फीस का भुगतान
40. एससी/एसटी, ओबीसी, अल्पसंख्यक बच्चों को स्कॉलरशिप का भुगतान।

पहले ही दिन मिलीं 21 हजार कॉल

सोमवार से शुरू हुए डोर स्टेप डिलीवरी के पहले दिन शाम छह बजे तक 21 हजार से अधिक लोगों ने सेवाओं के लिए कॉल किया। अब मुख्यमंत्री ने इस लाइन के ऑपरेटरों की संख्या बढ़ाने का फैसला किया है।
 मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस योजना की निगरानी करने का फैसला किया है व हर घंटे योजना से जुड़े आंकड़ें मंगा रहे हैं। मंगलवार से 40 की जगह 80 ऑपरेटर को लगाने का निर्णय लिया गया है ताकि ज्यादा काल का जवाब दिया जा सके। साथ ही टेलीफोन लाइन की संख्या को 50 से बढ़ाकर 120 करने का फैसला लिया है। सोमवार शाम छह बजे तक 2,728 कॉल्स कनेक्ट हो पाई। इनमें से 1,286 कॉल्स का जवाब दिया गया।
 जबकि कॉल्स वेटिंग लाइन पर थीं और उनको वापस कॉल बैक किया जा रहा है। शाम छह बजे तक 369 लोगों का एप्वाइंटमेट फिक्स कर दिया गया। सात लोगों के घर जाकर टीम ने जरूरी दस्तावेज ले लिया है। सोमवार को ज्यादा लोगों द्वारा काल किए जाने से काफी कॉल कनेक्ट नहीं हो पाई लेकिन उनके यूनीक नंबरों को कैप्चर कर लिया गया है और उन्हें अब कॉल्स सेंटर की तरफ से कॉल किया जाएगा। मंगलवार से तकनीकी  समस्या को दूर की जाएगी।