तेल के दामों में फिर तेजी, दिल्ली में तीन दिन में 53 पैसे महंगा हुआ पेट्रोल, डीजल 87 पैसे

आईएएनएस, नई दिल्ली

पेट्रोल और डीजल के दाम में सोमवार को लगातार तीसरे दिन वृद्धि जारी रही। महज तीन दिनों में दिल्ली में पेट्रोल 53 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया है और डीजल के दाम में 87 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। हालांकि आने वाले दिनों में तेल के दाम में थोड़ी नरमी आ सकती है, क्योंकि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट आई है। कमजोर विदेशी संकेतों से घरेलू वायदा बाजार में कच्चे तेल के दाम में नरमी आई है।

देश की राजधानी दिल्ली में सोमवार को पेट्रोल का दाम 82.03 रुपये प्रति लीटर हो गया और डीजल 73.82 रुपये प्रति लीटर बिकने लगा।

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन की वेबसाइट से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, कोलकाता में पेट्रोल का दाम सोमवार को 21 पैसे बढ़कर 83.87 रुपये प्रति लीटर हो गया और डीजल 29 पैसे बढ़कर 75.67 रुपये प्रति लीटर हो गया।

मुंबई में पेट्रोल का दाम 21 पैसे की वृद्धि के साथ 87.50 रुपये प्रति लीटर हो गया और डीजल 31 पैसे की बढ़ोतरी के साथ 77.37 रुपये प्रति लीटर बिकने लगा।

चेन्नई में पेट्रोल का दाम 22 पैसे बढ़कर 85.26 रुपये प्रति लीटर हो गया और डीजल 31 पैसे की वृद्धि के साथ 78.04 रुपये प्रति लीटर हो गया।

बाजार के जानकार बताते हैं कि अगर यह गिरावट आगे जारी रही और ब्रेंट क्रूड 80 डॉलर प्रति बैरल से नीचे आ जाए तो आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल के दाम में कमी आएगी।

हालांकि बीते सप्ताह की तेजी का असर अभी आगे देखने को मिलेगा जिससे बहरहाल पेट्रोल और डीजल के दाम से राहत मिलने की गुंजाइश कम है।

घरेलू वायदा बाजार मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर सोमवार को शुरुआती कारोबार के दौरान कच्चे तेल का अक्टूबर वायदा अनुबंध 82 रुपये यानी 1.48 फीसदी लुढ़ककर 5,464 रुपये प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। इससे पहले इस अनुबंध में 5,455 रुपये प्रति बैरल तक की गिरावट आई।

ब्रेंट क्रूड का दिसंबर वायदा अनुबंध सोमवार को इंटरकॉन्टिनेंटल एक्सचेंज यानी आईसीई पर 0.85 डॉलर यानी 1.01 फीसदी की कमजोरी के साथ 83.31 डॉलर प्रति बैरल पर बना हुआ था। पिछले सप्ताह ब्रेंट क्रूड आईसीई पर 86 डॉलर प्रति बैरल से ऊपर चला गया था।

वहीं न्यूयॉर्क मर्के टाइल एक्सचेंज यानी नायमैक्स पर अमेरिकी लाइट क्रूड वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट यानी डब्ल्यूटीआई 0.74 फीसदी की कमजोरी के साथ 73.79 डॉलर प्रति बैरल पर बना हुआ था।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने गुरुवार को तेल की कीमतों में 2.50 रुपये प्रति लीटर की कटौती की थी जिसके बाद शुक्रवार को देशभर में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी आई।

सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद कर में 1.50 रुपये प्रति लीटर की कटौती की जबकि तेल कंपनियों को एक रुपये प्रति लीटर की कटौती का भार वहन करने को कहा।

केंद्र सरकार की ओर से तेल की कीमतों में कटौती का ऐलान होने के बाद भाजपा शासित कई राज्यों की सरकारों ने भी तेल पर वैट में कमी करने की घोषणा की।