तुर्की लीरा में हल्का सुधार, दुनिया के बाजारों ने ली राहत की सांस

,

तुर्की की मुद्रा लीरा में कल मामूली सुधार आने से दुनियाभर के शेयर बाजारों ने राहत की सांस ली है। यूरोपीय बाजारों में मामूली बदलाव दिखा जबकि वॉल स्ट्रीट में तेजी का रुख रहा।    

विदेशी मुद्रा बाजार के विशेषज्ञ फावद रजाकजादा ने कहा, ‘‘दो दिन की लगातार गिरावट और दुनियाभर के बाजारों में घबराहट पैदा करने के बाद आखिर में तुर्की लीरा को कुछ समर्थन मिला है। उन्होंने कहा कि लीरा ने अपनी पिछले दिन की ज्यादातर गिरावट को वापस हासिल कर लिया है।’’    

रजाकजादा ने कहा कि लीरा को हालांकि अपनी खोई हुई पूरी जमीन को वापस पाने में काफी मशक्कत करनी होगी। शुक्रवार को इसमें 13 प्रतिशत से अधिक की गिरावट आई थी। इससे पहले भी यह गिरावट में था।    

यूरोपीय बाजारों में लीरा सुधरकर डालर के समक्ष 6.40 लीरा और यूरो के मुकाबले 7.26 इकाई रहा। यह आंकड़ा उसके रिकार्ड निम्न स्तर से काफी ऊपर था। इस दौरान तुर्की के केन्द्रीय बैंक ने बाजार में नकदी बढाने पर जोर दिया।    

यूरोप, लंदन और पेरिस के शेयर बाजारों में कारोबार की समाप्ति में हल्की गिरावट रही तो फ्रेंकफर्ट के बाजार पूर्ववत रहे। हालांकि, न्यूयार्क के डाउ एस एण्ड पी 500 और नास्दाक सभी में कम से कम आधा प्रतिशत की बढत दर्ज की गई।    

निवेशकों का कहना था कि विश्लेषकों का मानना था कि दूसरे उभरते बाजारों पर असर डालने वाले तुर्की के संकट को लेकर निवेशकों में ज्यादा चिंता में नहीं थी। तुर्की की मुद्रा की विनिमय दर में सुधार से अन्य उभरती अर्थव्यवस्थाओं की मुद्रा को लेकर जो डर था वह कम करने में मदद मिली। लीरा की गिरावट से इनमें काफी गिरावट आई थी।