जापान : एयरपोर्ट पर फंसे लोगों को बाहर निकाला गया

,

जापान में बीते 25 साल में आए सबसे शक्तिशाली तूफान के दौरान एक प्रमुख एयरपोर्ट पर फंसे यात्रियों को सुरक्षित निकालने में काफी मशक्कत करनी पड़ी क्योंकि एक टैंकर एयरपोर्ट तक जाने वाले एकमात्र पुल से जा टकराया।
तूफान ‘जेबी’ ने देश में तबाही मचाई जिसमें 11 लोगों की मौत हो गई जबकि सैकड़ों लोग घायल हुए। तेज हवाओं और भारी बारिश ने पश्चिमी जापान को खासा प्रभावित किया। करीब 216 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाली हवाओं से छतें उड़ गईं, ट्रक पलट गए और 2500 टन का एक टैंकर कंसाई अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की तरफ जाने वाले पुल से जा टकराया। पुल क्षतिग्रस्त होने से एयरपोर्ट वाले कृत्रिम द्वीप का अस्थायी रूप से संपर्क टूट गया जिससे तीन हजार यात्री तथा कर्मचारी रातभर फंसे रहे। हवाई पट्टी और कुछ इमारतों में पानी भर गया और बिजली गुल हो गई। बुधवार को नौकाओं से लोगों को एयरपोर्ट से बाहर निकाला गया।
परिवहन मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, एयरपोर्ट में करीब तीन हजार लोग फंसे थे। लेकिन हमें लगता है कि उनमें से करीब दो से ढाई हजार को बाहर निकाला जा चुका है। हमें लगता है कि ज्यादा लोग अंदर नहीं बचे हैं। एयरपोर्ट की प्रवक्ता ने कहा, हमें नहीं पता कि सबको बाहर निकालने के लिए कितना वक्त लगेगा लेकिन हम अभियान खत्म करने के लिए पूरा प्रयास कर रहे हैं।
फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि एयरपोर्ट पर फिर से संचालन कब से शुरू होगा लेकिन स्थानीय एजेंसी क्योदो न्यूज ने कहा, इसमें एक सप्ताह का समय लग सकता है। सरकारी प्रवक्ता योशिहिदा सुगा ने कहा, 11 लोगों की मौत हुई है जबकि 470 घायल हुए हैं। करीब चार लाख घरों में बिजली गुल है।