चार दिन पहले आत्मसमर्पित नक्सली को उतारा मौत के घाट

वार्ता , दंतेवाड़ा

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने चार दिन पहले पुलिस के सामने आत्मसमर्पण करने वाले करीब ढाई दशक पुराने एक नक्सली को मौत के घाट उतार दिया।

पुलिस ने पोडिया बड्डे (55) नाम के इस नक्सली से उसकी जान को खतरा होने की आशंका भी जाहिर की थी, इसके बावजूद वह अपने गांव चोलनार चला गया और नक्सलियों ने आज तड़के धारदार हथियारों से उसकी हत्या कर दी।

पुलिस ने पोडिया के शव को बरामद कर अज्ञात नक्सलियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि पोडिया नक्सलियों की भर्ती विंग का सदस्य था। युवक युवतियों को संगठन में भर्ती सहित ट्रेनिंग देने के काम में पोडिया को लगाया जाता था। वह अप्रैल महीने में हुये चोलनार विस्फोट का सूत्रधार भी बताया जा रहा था।

पल्लव ने बताया कि 2017 में पोडिया ने गांव के सरपंच रहे अपने ही चचेरे भाई की हत्या कर दी थी। उसके खिलाफ विभिन्न थानों में कई मामले दर्ज हैं।

उन्होंने बताया कि आत्मसमर्पण के बाद पोडिया को उसके गांव न जाकर किरंदुल में रहने वाले उसके भाई के पास रहने की बात कही थी, मगर वह नहीं माना और यह हादसा हो गया।