गूगल ने गायिका गौहर जान को डूडल बनाकर उन्हें किया याद

आईएएनएस, नई दिल्ली

सर्च इंजन गूगल ने गायिका गौहर जान के 145वें जन्मदिन पर डूडल बनाकर उन्हें याद किया। वह 78 आरपीएम रिकॉर्ड पर संगीत रिकॉर्ड करने वाले पहले कलाकारों में से एक थीं। दिग्गज गायिका व नर्तकी का जन्म उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में एंजेलीना योवार्ड के रूप में हुआ था। उनके पिता अर्मेनियाई थे और उनकी मां विक्टोरिया हेमिंग्स जन्म से भारतीय थीं।

विक्टोरिया ने अपना नाम बदलकर मल्का जान रख लिया और एंजेलिना का नाम बदलकर गौहर जान रख दिया। मल्का बनारस में एक प्रसिद्ध गायिका और नर्तकी बन गईं।

गौहर ने हिंदुस्तानी शास्त्रीय गायिका के रूप में अपना प्रशिक्षण लेना शुरू किया और जल्द ही संगीत के अन्य स्वरूपों के साथ ही कीर्तन और रबींद्र संगीत में प्रवीण हो गईं।

गौहर ने 1887 में दरभंगा के राज दरबार में अपनी पहली प्रस्तुति दी। और उन्हें राजदरबार की गायिका नियुक्त कर दिया गया। 1896 तक उन्होंने कलकत्ता में प्रस्तुति देना शुरू कर दिया और बड़ी संख्या में लोग उनके प्रशंसक बन गए।

दिग्गज नर्तकी ने 1902 से 1920 के बीच बंगाली, गुजराती, तमिल, मराठी, अरबी, फारसी, पश्तो, फ्रांसीसी और अंग्रेजी समेत विभिन्न भाषाओं में 600 से अधिक गाने रिकॉर्ड किए।

गौहर जान का निधन 17 जनवरी, 1930 को मैसूर में हुआ था।