कोटा में योग करने के लिये लोगों का उमड़ा हुजूम, बनाया वर्ल्ड रिकार्ड

वार्ता, जयपुर

अंतराष्ट्रीय योग दिवस पर आज समूचे राजस्थान में आयोजित योग शिविरों में भारी संख्या में लोगों का हुजुम उमड़ पडा और बच्चों युवाओं के साथ ही बडी संख्या में बुजुर्गों ने भी योग किया।
        
कोटा में राजस्थान सरकार और पंतजलि संस्थान की ओर से आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और योग गुरू रामदेव के सानिध्य में लगभग दो लाख से अधिक लोगों ने एक साथ योग कर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में कोटा का नाम दर्ज कराया।  इस अवसर पर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड के अधिकारियों ने एक साथ इतने लोगों का एक ही स्थान पर योग करने के लिये विश्व रिकार्ड बनाने की घोषणा करते हुये बाबा राम देव और उनके शिष्य बाल कृष्ण को  इसका प्रमाण पत्र सौंपा।

कोटा के आरसीए मैदान में आयोजित अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर बाबा राम देव ने खुद मंत्रियों एवं आम लोगों को एक साथ योग के विभिन्न आसन कराया। इस अवसर पर स्वयं मुख्यमंत्री भी मंच पर मौजूद रहकर योग क्रिया करती नजर आयी। योग दिवस पर सुबह से ही लोगों का कार्यक्रम स्थल पर पहुंचना शुरू हो गया था। इस दौरान सूक्ष्म व्यायाम, योगासन, प्राणायाम व एडवांस योग भी करवाया गया। बाबा ने युवाओं व स्टूडेंट्स के लिए विशेष प्राणायाम और यौगिक क्रियाएं भी करवाईं।
             
इस मौके पर गुरुकुलम और आचार्यकुलम हरिद्वार के स्टूडेंट्स ने संगीतमय योग किया। इस अवसर पर  बाबा ने श्रेष्ठ यौगिक क्रियाएं करने वाले साधकों को सम्मानित भी किया।
राज्य सीय कार्यक्रम में  सुबह 5 बजे से पहले ही लोग आरएसी ग्राउंड पहुंचना शुरू हो गये थे । लोगों के बडी संख्या में पहुंचने की संभावनाओं को देखते हुये पहले ही मैदान में

प्रवेश के लिए 8 गेट बनाए गए थे। हर व्यक्ति को बारकोड दिया गया था। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड के लंदन से आए आब्जर्वर सुबह 6.30 बजे आरएसी ग्राउंड पहुंच गए। उन्होंने सुबह 6.30 बजे से 7 बजे तक योग को रिकॉर्ड किया। इसके बाद उन्होंने र्वल्ड रिकॉर्ड बनने का औपचारिक घोषणा की।
          
कार्यक्रम में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने युवा पीढी को योग करने की सलाह देते हुये कहा कि पढ़ने लिखने वाले बच्चे जब योग करते हैं तो इससे तनाव अपने आप कम हो जाता है।

उन्होंने कहा कि सरकार भी योग को बढावा देने के लिये सभी बड़े पार्क में योग के शिविर लगाने का प्रयास करेगी। उन्होंने कहा कि पतंजलि ने कोटा जिले में दो हजार शिविर लगाए हैं।
        
राजधानी जयपुर में सवाई मानसिंह स्टेडियम में राजस्थान के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने लोगों को योग कराया और सभी को स्वस्थ रहने का सकंल्प कराया।  इसके अलावा आर्मी की ओर से आयोजित योग शिविर में भारी संख्या में सेना के अधिकारियों और जवानों ने योग किया।
         
राजस्थान के विभिन्न जिलों में भी सरकार ओर विभिन्न संस्थानों की ओर से योग दिवस पर शिविर लगाये गये जिनमें भारी संख्या में लोगों द्वारा योग करने के समाचार मिले है1