कांग्रेस नेताओं से बोले शरद यादव- खतरे में लोकतंत्र, इसे बचाने के लिए हम एक राह के राही

भाषा , भोपाल

पूर्व केन्द्रीय मंत्री शरद यादव ने गुरुवार को मध्य प्रदेश के भोपाल में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह से अलग-अलग मुलाकात की और कहा कि आज देश, संविधान और लोकतंत्र खतरे में हैं और इसे बचाने के काम में हम सब एक राह के राही हैं।

यादव ने गुरुवार को भोपाल प्रवास पर सुबह दिग्विजय सिंह ने उनसे वीआईपी गेस्ट हाउस में मुलाकात की। इसके बाद शाम को यादव, श्यामला हिल्स इलाके में कमलनाथ के बंगले पर गये। यहां बंद कमरे में लगभग आधा घंटे तक दोनों नेताओं ने चर्चा की।     

मुलाकात के बाद कमलनाथ के बंगले पर संवाददाताओं से बातचीत में यादव ने कहा, ‘‘आज देश, संविधान और लोकतंत्र खतरे में हैं। देश का किसान, मजदूर, नौजवान और दुकानदार सब तंग और तबाह हैं। देश का संविधान कई तरह से घायल है। इसे बचाना है और इस काम में हम सब लोग एक राह और रास्ते के राही हैं।’’      

यादव से मुलाकात के बाद कमलनाथ ने कहा, ‘‘हमारी मुलाकात अच्छी रही। मेरा शरद जी से पुराना संबंध रहा है और उनका आर्शीवाद हमेशा मेरे साथ है।’’         

उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा को वोटों के विभाजन से लाभ होता है। आज बहुत बड़ी आवश्यकता है कि यह वोटों का विभाजन और विखराव न हो। इसलिये मैंने शरद जी से को निवेदन किया था कि उन सब पार्टियों से, जिनसे वोटों का विभाजन या बिखराव होता है। उनको एक करने का प्रयास करें ताकि भाजपा को पराजित कर मध्य प्रदेश को सुरक्षित किया जा सके।’’     

यादव और नाथ दोनों ने कहा कि भाजपा की नीतियां देश के लिये अच्छी नहीं हैं। अपनी मुलाकात के बातचीत के ब्यौरों को बताने से दोनों नेताओं ने इंकार किया। इसी प्रकार यादव ने सुबह दिग्विजय सिंह के साथ हुई मुलाकात के बारे में अधिक बताने से इंकार कर दिया।

उन्होंने कहा कि भाजपा को पराजित करना हम सभी का एक समान लक्ष्य है।