कठुआ मामले पर जावेद अख्तर ने जताई चिंता, कहा- अक्सर सामने आ रही हैं ‘बुरी घटनाएं’

भाषा/आईएएनएस, मुंबई

जम्मू-कश्मीर के कठुआ में एक बच्ची के साथ सामूहिक बलात्कार के बाद उसकी हत्या पर चिंता जताते हुए पटकथा लेखक और शायर जावेद अख्तर ने कहा कि उन्हें डर लग रहा है कि बुरी घटनाएं बड़ी जल्दी - जल्दी होने लगी हैं और लोगों को इसे लेकरंिचतित होना चाहिए।      

उन्होंने संवाददाताओं से कहा , ‘क्रूर बलात्कार और हत्या पर क्या विचार हो सकता है ? क्या कोई और विचार हो सकता है ? समाज साथ में नहीं चल रहा है , यह अलग-अलग टाइम जोन में रहता है , सांस्कृतिक जोन में रहता है। कुछ अच्छी बातें होती हैं , कुछ बुरी बातें होती हैं।’     

उन्होंने कहा, ‘मुझे डर है कि कई बुरी बातें ज्यादा जल्दी-जल्दी होने लगी हैं, और हमें, बतौर समाज इसकी चिंता होनी चाहिए।’     

‘द वॉक ऑफ मिजवान’ में कल शाम संवाददताओं से बातचीत के दौरान 73 वर्षीय अख्तर ने कहा कि लड़कों में अच्छे संस्कार डाले जाने चाहिए।      

कार्यक्रम में मौजूद सोनाक्षी सिन्हा इस तरह के मामले को रोकने के लिए कठोर सजा के प्रावधानों के पक्ष में हैं।           

अभिनेत्री ने कहा कि बच्चों को शुरू से ही मूल्यों के बारे में समझाया जाना चाहिए।

अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी कुंद्रा का कहना है कि उन्हें भारतीय होने पर गर्व है, लेकिन कठुआ दुष्कर्म जैसी घटना के बाद वह शर्मिदा महसूस कर रही है, जिसमें जम्मू के कठुआ में एक आठ वर्षीय बच्ची के साथ बर्बरतापूर्वक सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई।

एक उत्पाद के लॉन्च के दौरान यहां बुधवार को शिल्पा ने कहा, "मैं राजनेता नहीं हूं..लेकिन यह अच्छी स्थिति नहीं है। एक मां के तौर पर, मैं कह सकती हूं कि इस घटना के बाद हर बेटी वाली मां बेहद असुरक्षित महसूस कर रही होगी और उसके मन में काफी डर होगा।"

उन्होंने कहा, "हम लोकतांत्रिक देश में रह रहे हैं और दुष्कर्म के मामले में सख्त सख्त कानून बनाए जाने चाहिए।"

अभिनेत्री ने कहा, "एक मां और करदाता नागरिक के रूप में मुझे भारतीय होने पर बहुत गर्व है, हालांकि जब इस तरह की घटनाओं होती हैं तो मैं बहुत शर्मिदा महसूस करती हूं।" उन्होंने कहा, "जरूर कुछ समाधान निकलना चाहिए और मुझे भरोसा है कि सरकार इस संबंध में काम कर रही है।"