एशियाई खेल (निशानेबाजी) : राही को 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण

आईएएनएस, जकार्ता

भारत की युवा महिला निशानेबाज राही जीवन सारनाबोत ने यहां जारी 18वें एशियाई खेलों के चौथे दिन बुधवार को 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में गेम रिकार्ड तोड़ते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया। राही ने बेहद रोचक मुकाबले में थाईलैंड की नापशावान यांगपाईबून को शूटऑफ में 3-2 से हराया। दोनों खिलाड़ियों का स्कोर 34-34 से बराबर था। इसके बाद दो शूटऑफ में विजेता का फैसला निकला।

राही एशियाई खेलों में निशानेबाजी में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं।

यह राही का इस स्पर्धा में पहला स्वर्ण पदक है। दक्षिण कोरिया की किम मिनजुंग तीसरे स्थान पर रहकर कांस्य जीतने में सफल रहीं।

फाइनल में राही शुरू से ही पहले स्थान पर रहीं, फिर कुछ निशाने चूकने के कारण दूसरे स्थान पर आ गई। लेकिन, उन्होंने आखिरी सीरीज में यांगपाईबून से स्कोर बराबर कर लिया। इसके बाद फैसला शूटऑफ में हुआ।

मुकाबला इतना रोचक हुआ कि स्वर्ण और रजत पदक का फैसला दो शूटऑफ में निकला।

पहले शूटऑफ में दोनों खिलाड़ियों ने एक-एक निशाना मिस किया। इसके कारण एक और शूटऑफ हुआ। पहले दो निशानों दोनों ही खिलाड़ियों ने सही लगाए। तीसरा निशाना राही ने सही लगाया लेकिन थाईलैंड की खिलाड़ी मिस कर गई। राही के पास बढ़त थी और स्वर्ण उनके करीब। अगला निशाना राही चूक गईं लेकिन थाईलैंड की खिलाड़ी भी सही निशाना नहीं लगा सकीं।

अब अगर राही आखिरी निशाना चूक जातीं और थाईलैंड की खिलाड़ी सही निशाना लगा देतीं तो एक और शूटऑफ होता लेकिन ऐसा हुआ नहीं। दोनों खिलाड़ियों ने आखिरी निशाना गलत लगाया और एक सही निशाने की बढ़त के साथ जीत राही के हिस्से आई।

इसी स्पर्धा में भारत को मनु भाकेर से काफी उम्मीदें थी, लेकिन राष्ट्रमंडल खेलों की विजेता मनु 16 का स्कोर कर छठे स्थान पर रहकर पहले ही बाहर हो गईं। मनु ने क्वालीफिकेशन में शानदार प्रदर्शन किया था और गेम रिकार्ड तोड़ पहले स्थान पर रहकर फाइनल में जगह बनाई थी।