इंदिरा गांधी की विरासत के कारण भारत, रूस के बीच हैं शानदार संबंध: सोनिया

भाषा, मास्को

संप्रग प्रमुख सोनिया गांधी ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की विरासत के कारण भारत और रूस के बीच शानदार संबंध हैं। उन्होंने उस विरासत को और मजबूत करने के लिए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन तथा भारत के प्रधानमंत्रियों की प्रशंसा की।         

सोनिया गांधी कल इंदिरा गांधी के शताब्दी समारोह के उपलक्ष्य में यहां आयोजित एक फोटो प्रदर्शनी के उद्घाटन अवसर पर बोल रही थीं।          

सोनिया ने कहा कि उनकी सास इंदिरा पर प्रदर्शनी एक साहसी, दमदार और करिश्माई नेता की कहानी बताती है जिसने न केवल अपने देश, भारत, यूएसएसआर संबंधों, बल्कि वैश्विक मंच पर अपनी अमिट छाप छोड़ी।          

कांग्रेस पार्टी द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, सोनिया ने कहा कि रूस के साथ उनके परिवार के संबंध 1927 से हैं जब इंदिरा गांधी के दादा मोतीलाल नेहरू, पिता जवाहरलाल नेहरू और मां कमला ने पहली बार मास्को यात्रा की थी। उन्होंने कहा, ‘‘ इस यात्रा से नेहरू को अपनी पहली पुस्तक ‘सोवियत रशिया : सम रैंडम स्केचेज एंड इम्प्रेशन्स’ लिखने की प्रेरणा मिली।’’