आध्यात्मिक गुरु भय्यू महाराज ने खुद को गोली मारकर की खुदकुशी

समयलाइव डेस्क/आईएएनएस , इंदौर

आध्यात्मिक गुरु भय्यू महाराज (उदय सिंह देशमुख) ने मंगलवार को खुद को गोली मार ली। उन्हें गंभीर हालत में यहां बाम्बे अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई।

डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्रा ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि भय्यू महाराज ने सिल्वर स्प्रिंग स्थित अपने निवास पर खुद को गोली मारी। उन्होंने अपनी दाईं कनपटी पर गोली चलाई। उनका शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

फॉरेंसिक विशेषज्ञों का दल भय्यू महाराज के घर पहुंच कर जांच में जुट गया है।

भय्यू महाराज ने मॉडलिंग की दुनिया से अपना करियर शुरू किया था और उसके बाद आध्यात्म के सफर पर चलना तय किया। उनके अनुयायियों में लता मंगेशकर से लेकर कई अन्य जानी मानी हस्तियां शामिल हैं।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत, प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल सहित कई बड़ी हस्तियां उनके आश्रम में उनसे मिलने आ चुकी हैं।

भय्यू जी महाराज 2011 में तब चर्चा में आए थे जब सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के अनशन को खत्म करवाने के लिए तत्कालीन केंद्र सरकार ने उन्हें अपना दूत बनाकर भेजा था।

भय्यू महाराज ने पहली पत्नी के निधन के बाद 2016 में ग्वालियर की एक डॉक्टर से दूसरी शादी की थी।