आईसीजे में जाधव के मामले की सुनवाई फरवरी 2019 में

भाषा, इस्लामाबाद

अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मामले की अगले साल फरवरी में एक हफ्ते सुनवाई करेगा। मीडिया में बुधवार को आई एक खबर में यह दावा किया गया है। जाधव (47) को पकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने जासूसी के आरोपों में पिछले साल अप्रैल में मौत की सजा सुनाई थी।
पाकिस्तान का दावा है कि इसके सुरक्षाबलों ने जाधव को अपने बलूचिस्तान प्रांत से मार्च 2016 में गिरफ्तार किया था। उन्होंने कथित तौर पर ईरान से पाकिस्तान की सीमा के अंदर प्रवेश किया था। वहीं, भारत ने इन आरोपों से इनकार किया है। भारत ने इस फैसले के खिलाफ पिछले साल मई में आईसीजे का रुख किया था। आईसीजे ने भारत की अपील पर अंतिम फैसला आने तक जाधव की मौत की सजा के क्रियान्वयन पर रोक लगा दिया था।
जियो टीवी ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि अंतरराष्ट्रीय न्यायालय अगले साल फरवरी में एक हफ्ते    रोजाना आधार पर सुनवाई करेगा। पकिस्तान ने अपनी दलील में कहा है कि जाधव कोई साधारण व्यक्ति नहीं है क्योंकि उन्होंने जासूसी के इरादे से देश में प्रवेश किया और विध्वंसक गतिविधियों को अंजाम दिया था।