अलवर में गोकशी का नया मामला, 348 खालें बरामद

वार्ता, अलवर

राजस्थान में अलवर जिले के गोविंदगढ़ कस्बे में 3 दिन पहले बरामद किए गए 40 किलो गोमांस के मामले में अब नए खुलासे सामने आ रहे हैं। पुलिस ने जिन कमरों को सील किया था उन कमरों को आज अधिकारियों की मौजूदगी में खुलवाकर बरामद की गई खालों की गिनती की गई।

     
पशु चिकित्सक डॉक्टर जितेंद्र सिंह ने बताया कि आज कमरों में रखी खालों की गिनती की गई जिनमें 221 गाय, 82 भैंस और 45 बकरी की खाल बरामद हुई हैं। उन्होंने बताया कि कुल 348 खालें थी और इनमें ज्यादातर पुरानी खालें हैं इसके बाद अधिकारियों की मौजूदगी में पुलिस ने इन सभी खालों को ट्रैक्टर से भरवाकर समीपवर्ती कॉलेज के पास जेसीबी की सहायता से गड्ढा खुदवाकर उसमें नमक डाल कर दबा दिया है। यहां सबसे बड़ी बात यह है कि जिस तरह की कारें बरामद की गई हैं इससे ऐसा लगता है कि यह कारोबार काफी लंबे समय से चल रहा है।

पुलिस के अनुसार यह परिवार 17 साल से गोविंदगढ़ में रह रहा है और यह लोग इसी तरह गोवंश सहित अन्य पशुओं को काटकर उसका मांस तैयार करते हैं और पैकिंग कर बाइकों से हरियाणा के कई इलाकों में इनको बेचने जाते हैं यहां गंभीर बात यह भी है कि कस्बे के बीच इतना बड़ा कारोबार चलने के बाद भी पुलिस को भनक तक नहीं लगी।

इधर गोविंदगढ़ पुलिस ने बताया कि पांचवें आरोपी की तलाश की जा रही है।