अयोध्या में अनशन पर बैठे महंत परमहंस दास को लखनऊ के PGI में कराया भर्ती

आईएएनएस , लखनऊ

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए पिछले सात दिन से आमरण अनशन पर बैठे महंत परमहंस दास को रविवार देर रात पुलिस ने अनशन स्थल से हिरासत में ले लिया। उन्हें लखनऊ स्थित एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया है।

पुलिस अधीक्षक अनिल सिसौदिया ने बताया कि महंत की हालत लगातार खराब हो रही है। उनकी पल्स रेट काफी नीचे चली गई है। लिहाजा, उन्हें आपात चिकित्सा के लिए एसजीपीजीआई लखनऊ लाया गया है।

गौरतलब है कि महंत परमहंस को मनाने के लिए जिले के प्रभारी मंत्री और औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना रविवार रात 8.45 बजे पहुंचे थे। उन्होंने 20 मिनट तक महंत परमहंस दास से बात की। लेकिन, इस वार्ता के बाद भी महंत परमहंस ने अनशन नहीं तोड़ा।

वार्ता के बाद महंत परमहंस ने बताया कि महाना ने सोमवार दोपहर 12 बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से वीडियो कॉल के जरिए बात कराने का आश्वासन दिया। मुख्यमंत्री से वार्ता के बाद यदि सहमति बनती है तभी अनशन टूटेगा।

इसके बाद महंत अनशन स्थल पर लेटे थे। तभी रात करीब 11.15 बजे एक एंबुलेंस सहित पुलिस की पांच गाड़ियां पहुंचीं और महंत को अनशन स्थल से उठा लिया।

हालत बिगड़ने पर प्रशासन ने उन्हें आनन फानन पीजीआई लाकर भर्ती कराया। पीजीआई निदेशक प्रो राकेश कपूर की देखरेख में उनका इलाज चल रहा है। परमहंसदास सात दिन से अनशन पर थे।

उनकी मांग है कि जब तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अयोध्या आकर मंदिर निर्माण की घोषणा नहीं करते वह अनशन जारी रखेंगे। सोमवार उनके अनशन का आठवां दिन है।