अब बिना परमिट के दौड़ सकेंगे इलेक्ट्रिक वाहन

सहारा न्यूज ब्यूरो, नई दिल्ली

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को कहा कि वाहनों से उत्सर्जित प्रदूषण को कम करने और पर्यावरण के अनुकूल स्वच्छ ईंधन से चलने वाले सभी प्रकार के वाहनों को अब परमिट की जरूरत नहीं होगी।
श्री गडकरी ने यहां वाहन निर्माता कंपनियों के शीर्ष संगठन सोसायटी आफ इंडियन आटोमोबाइल मैन्युफैक्चर्स (सियाम) की 58वीं वाषिर्क बैठक के शुभारंभ के मौके पर यह घोषणा करते हुए कहा कि ग्रीन फ्यूल एथेनाल, मेथनाल, बायो सीएनजी और इलेक्ट्रिक से चलने वाली गाड़ियों को परमिट की जरूरत नहीं होगी।

इस निर्णय से परिवहन क्षेत्र में व्यापक परिवर्तन आएगा। केंद्रीय मंत्री ने वाहन निर्माता कंपनियों से इसमें सहयोग करने की अपील करते हुए कहा कि स्वच्छ ईंधन से चलने वाले वाहनों के निर्माण के लिए कंपनियों को आगे आना चाहिए।

उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि आटोमोबिल इंडस्ट्री जल परिवहन में पैसा लगाए। ईंधन की निर्यात लागत कम करने के लिए बायो फ्यूल और इलेक्ट्रिक से चलने वाले वाहनों की निर्माता कंपनिया आगे आएं। गडकरी ने कहा कि स्वच्छ ईंधन चालित वाहनों की परमिट की अनिवार्यता खत्म करने से उद्योग के लिए नए कारोबार का रास्ता खुलेगा।

उन्होंने साथ ही बताया कि मेट्रो सिटी के अलावा अन्य शहरों में चलने वाले किसी भी दोपहिया वाहन को टैक्सी के रूप में चलाया जा सकता है।