अखिलेश ने कानून व्यवस्था पर सरकार को घेरा, सरकार ने आरोपों को नकारा

भाषा, लखनऊ

गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी की जेल में हत्या के एक दिन बाद पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज प्रदेश में कानून व्यवस्था खराब होने का आरोप लगाते हुए योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरा।    

सपा प्रमुख ने ट्वीट कर कहा कि ‘‘आज यूपी में न तो कानून बचा है न व्यवस्था, हर तरफ दहशत का वातावरण है। अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गये हैं कि वो जेल तक में हत्याएं कर रहे हैं। यह सरकार की विफलता है। प्रदेश की जनता इस भय के माहौल में बहुत डरी सहमी है। प्रदेश में ऐसा कुशासन व अराजकता का दौर कभी नहीं देखा।‘‘    

उप्र सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने इन आरोपों को नकारते हुये कहा कि सपा सरकार की तुलना में प्रदेश की कानून व्यवस्था बहुत बेहतर है और प्रदेश भर में पुलिस अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर रही है।    

सिंह ने कहा कि सरकार ने मामले को गंभीरता से लेते हुये जेलर, डिप्टी जेलर, हैड वार्डन और वार्डन को निलंबित कर दिया है तथा मामले की न्यायिक जांच के आदेश दे दिये हैं, जल्द ही इस घटना की पूरी साजिश का खुलासा कर दिया जायेगा।     

कुख्यात गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी की कल बागपत जेल में एक अन्य कैदी द्वारा हत्या कर दी गयी थी। माफिया डॉन बजरंगी उर्फ प्रेम प्रकाश सिंह (51) को भाजपा विधायक लोकेश दीक्षित से पिछले साल रंगदारी मांगे जाने के मामले में कल स्थानीय अदालत में पेशी के लिये झांसी कारागार से बागपत जेल लाया गया था।    

बजरंगी पर हत्या, लूट, अपहरण समेत अनेक जघन्य अपराधों के करीब 40 मुकदमे दर्ज थे। वह तत्कालीन भाजपा विधायक कृष्णानन्द राय की हत्या के मामले में भी आरोपी था।